टूलकिट मामला: दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में खोली दिशा रवि की पोल, भारत के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय साजिश का थी हिस्सा

दिल्ली पुलिस ने आरोप लगाया कि दिशा रवि (Disha Ravi) ने व्हाट्सऐप पर हुई बातचीत‚ ईमेल और अन्य साक्ष्य मिटा दिये और वह इस बात से अवगत थी कि उसे किस तरह की कानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है।

Disha Ravi

दिल्ली पुलिस ने जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि (Disha Ravi) की जमानत याचिका का विरोध करते हुए दिल्ली की एक कोर्ट में आरोप लगाया कि वो खालिस्तान समर्थकों के साथ ये टूलकिट (Toolkit) तैयार कर रही थी। साथ ही‚ वह भारत को बदनाम करने और किसानों के प्रदर्शन की आड़ में देश में अशांति पैदा करने की अंतर्राष्ट्रीय साजिश का हिस्सा थी।

भारत के खिलाफ पाकिस्तान की नई साजिश, खालिस्तानियों को बम बनाने की दे रहा ट्रेनिंग

दिल्ली पुलिस ने एडिशनल सेशन जज धर्मेंद्र राणा की कोर्ट में बताया कि ये महज एक टूलकिट (Toolkit) नहीं है, बल्कि इनका असली मकसद भारत को बदनाम करने और देश में अशांति पैदा करने का था। दिल्ली पुलिस ने आरोप लगाया कि दिशा रवि (Disha Ravi) ने व्हाट्सऐप पर हुई बातचीत‚ ईमेल और अन्य साक्ष्य मिटा दिये और वह इस बात से अवगत थी कि उसे किस तरह की कानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है।

दिल्ली पुलिस ने कोर्ट के सामने दलील दी कि यदि दिशा (Disha Ravi) ने कोई गलत काम नहीं किया था‚ तो उसने अपने मैसेज को क्यों छिपाया और सबूतों को क्यों मिटा दिया। पुलिस ने आरोप लगाया कि इससे उसका नापाक इरादा जाहिर होता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App