अंकित के हत्यारे ताहिर का सुराग नहीं, हिंसा फैलाने के आरोप में इशरत जहां गिरफ्तार

आईबी कर्मी अंकित की हत्या के आरोपी पार्षद ताहिर हुसैन अब भी फरार हैं। पुलिस उनके ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। हिंसा मामलों की छानबीन कर रही क्राइम ब्रांच की एसआईटी ने साइबर सेल से मदद मांगी है।

Ankit Sharma

अंकित हेलमेट पहनकर पैदल ही घर से निकले थे।

उत्तर–पूर्वी दिल्ली में तनाव के बीच शाांति बरकरार है। हिंसाग्रस्त इलाकों में धारा–144 लागू होने के बावजूद चहल–पहल रही। कई इलाकों में ज्यादातर दुकानें खुल गई हैं और प्रभावित लोग भी अपने–अपने घरों में वापस आने लगे हैं। उधर आईबी कर्मी अंकित शर्मा (Ankit Sharma) के हत्या के आरोपी निगम पार्षद ताहिर हुसैन फरार हैं। इस बीच कांग्रेस की पूर्व निगम पार्षद इशरत जहां को हिंसा फैलाने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। वहीं स्पेशल सीपी एसएन श्रीवास्तव ने शनिवार को पुलिस आयुक्त का अतिरिक्त पदभार संभालते हुए आम लोगों से शांति और सांप्रदायिक सौहार्द कायम रखने की अपील की।

Ankit Sharma

हिंसाग्रस्त इलाकों में धारा–144 लागू है। शुक्रवार सुबह–शाम पुलिस ने दस घंटे की राहत देकर हालात का जायजा लिया। शनिवार को अधिकारियों ने लोगों से अपनी दुकानें व घरों में जाने की अपील की। सड़कों पर भी समान्य दिनों की तरह चहल –पहल रहा।

पढ़ें: मां को चाय बनाने के लिए कह कर घर से निकले थे IB के कर्मचारी अंकित शर्मा…

लोग ई–रिक्शा‚ ऑटो आदि से आते–जाते दिखाई दिए। संवेदनशील स्थलों में शामिल ब्रह्मपुरी रोड‚ घोंडा चौक‚ नूर–ए–इलाही‚ यमुना विहार‚ चांदबाग‚ करावल नगर‚ मुस्तफाबाद‚ दुर्गापुरी‚ जाफराबाद और सीलमपुर समेत अन्य स्थानों पर हालात सामान्य दिखाई दिया। लोग बाजारों में खरीदारी करने भी निकले।

जले और लुटे मकानों व दुकानों को देखने उनके मालिक पहुंचे। स्पेशल सीपी लॉ एंड ऑर्डर सतीश गोलचा समेत कई वरिष्ठ अधिकारी मार्च कर लोगों से शांति की अपील करते नजर आए। पुलिस ने बताया कि 25 फरवरी के बाद से जिले में शांति बनी हुई है।

दूसरी ओर आईबी कर्मी अंकित (Ankit Sharma) की हत्या के आरोपी पार्षद ताहिर हुसैन अब भी फरार हैं। पुलिस उनके ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। हिंसा मामलों की छानबीन कर रही क्राइम ब्रांच की एसआईटी ने साइबर सेल से मदद मांगी है।

दंगाइयों व उपद्रवियों की तलाश में पुलिस जगह–जगह छापेमारी कर रही हैं। इस बीच पुलिस ने हिंसा भड़काने वाले कुछ और लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की है और कई अन्य लोगों को हिरासत में लिया है।

यह भी पढ़ें