Delhi Riots: अफवाहों ने फिर फैलाई दिल्ली में दहशत, रातभर पुलिस ने किया गश्त

Delhi Riots: पिछले दिनों राजधानी दिल्ली में हुई सांप्रदायिक दंगों की अफवाह आय दिन लगातार फैलाई जा रही है। ऐसी ही दिल्ली के विभिन्न इलाकों में रविवार शाम को हिंसा की अफवाह के बाद अफरा–तफरी मच गई। लोग दुकानें बंद कर इधर-ऊधर भागते हुए देखे गए। इसके कारण दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) ने भी बिना कारण बताए सात स्टेशनों को बंद कर दिया। हालांकि‚ पुलिस (Delhi Police) ने तुरंत स्पष्ट कर दिया कि किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। कहीं कोई हिंसा नहीं हुई है। लोग किसी भी तरह की अफवाह पर ध्यान न दें और संयम बनाए रखें। पुलिस देर रात तक सड़कों पर निगरानी में मुस्तैदी से जुटी रही और लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील करती रही।

Delhi Police

पुलिस सूत्रों के मुताबिक‚ दिल्ली के तिलक नगर‚ रघुबीर नगर‚ नांगलोई‚ उत्तम नगर‚ हरिनगर‚ जेल रोड़‚ ख्याला‚ मदनपुर खादर‚ तुगलकाबाद व बदरपुर खादर जैसे इलाकों में रविवार शाम अचानक यह अफवाह फैल गई कि कुछ दंगाई घरों व दुकानों में आग लग रहे हैं।

पढ़ें: जानें कौन हैं दिल्ली पुलिस के नए कमीश्नर एसएन श्रीवास्तव

इसके बाद आनन-फानन में इन इलाकों में मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया। हालांकि जब इन इलाकों में पुलिस की टीमों ने दौरा किया तो हालात पूरी तरह से सामान्य मिले।

पुलिस (Delhi Police) का कहना है कि ख्याला इलाके में दो गुटों में आपस में झगड़ा हुआ था‚ लेकिन वहां पर भी अब हालात पूरी तरह से सामान्य हैं। पुलिस ने बताया कि जिन इलाकोंमें मेट्रो स्टेशनों के गेट बंद किए गए थे‚ उन्हें खोल दिया गया है। लोग झूठी अफवाहों पर ध्यान न दें।

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के डीसीपी (पश्चिम) दीपक पुरोहित ने बताया‚ “पश्चिमी जिले के ख्याला–रघुबीर नगर इलाके में तनाव को लेकर एक अफवाह की जानकारी मिली है। इसमें जरा भी सचाई नहीं है । सभी से शांति बनाए रखने की अपील की जाती है क्योंकि स्थिति पूरी तरह सामान्य और शांतिपूर्ण हैं।”

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) अफवाह फैलाने वाले अकाउंट पर करीबी नजर रख रही है और कार्रवाई कर रही है। वहीं‚ तिलक नगर के विधायक जरनैल सिंह ने लोगों से शांति बनाए रखने का अनुरोध किया । उन्होंने कहा‚ दंगे की अफवाह के बारे में सुनते ही मैं घटनास्थल पर पहुंचा‚ दुकानें बंद थीं और लोग दहशत में थे लेकिन किसी ने भी दंगा होते नहीं देखा। यह अफवाह फैलाने और माहौल खराब करने की साजिश है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here