दिल्ली: 2 दिनों तक चलेगी सेना की कमांडर कॉन्फ्रेंस, पाकिस्तान और चीन से सटी सीमा पर हो सकती है चर्चा

हर 6 महीने में आर्मी की ये कमांडर बैठक बुलाई जाती है। जिसमें सेना से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की जाती है। बताया जा रहा है कि इस बैठक में ऑपरेशनल क्षमताओं पर विशेष बातचीत होगी।

Indian Army

सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे (फाइल फोटो)

हर 6 महीने में आर्मी (Indian Army) की ये कमांडर बैठक बुलाई जाती है। जिसमें सेना से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की जाती है। बताया जा रहा है कि इस बैठक में ऑपरेशनल क्षमताओं पर विशेष बातचीत होगी।

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में आज से 2 दिनों तक सेना (Indian Army) की कमांडर कॉन्फ्रेंस शुरू होने जा रही है। इसकी अध्यक्षता सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे करेंगे। इस कॉन्फ्रेंस में आर्मी चीफ, आर्मी के सभी कमांडर्स और साथ ही उनके प्रिंसिपल स्टाफ ऑफिसर्स भी शामिल होंगे।

सारे ऑफिसर्स मिलकर पश्चिमी और उत्तरी सीमा की सुरक्षा के बारे में चर्चा करेंगे। इसके साथ साथ थियेटर कमांड और एकीकृत युद्ध समूह की रूप रेखा पर भी बात होगी। इस बैठक को इसलिए भी काफी अहम बताया जा रहा है क्योंकि बीते दिनों से LoC और LAC पर विवाद जारी है।

मिली जानकारी के मुताबिक, 15 जून को गलवान घाटी में चीन के द्वारा की गई हिंसा की पहली बरसी थी और इस लिहाज से इस बैठक में सुरक्षा को लेकर गंभीर बातचीत हो सकती है।

झारखंड: देवघर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, अलग-अलग छापेमारी में 13 साइबर अपराधियों को धर-दबोचा

हालांकि भारत और चीन के बीच LAC पर जारी विवाद के पहले दौर का समझौता हो चुका है। चीनी सेना पीछे भी हट चुकी है। मगर यह माना जा रहा है कि चीन की सेना अभी भी इन इलाकों में मौजूद है और इससे दोबारा सीमा पर तनाव की स्थिति पैदा हो सकती है।

वहीं अगर LoC की बात की जाए तो जानकारी के मुताबिक पाकिस्तानी सेना सीमा पर अपनी तैनाती मजबूत करने की मंशा बना रही है। बता दें कि हर 6 महीने में आर्मी की ये कमांडर बैठक बुलाई जाती है। जिसमें सेना (Indian Army) से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की जाती है। बताया जा रहा है कि इस बैठक में ऑपरेशनल क्षमताओं पर विशेष बातचीत होगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें