Defense Expo: यह रोबोट कर सकता है 1000 किलो का बम डिफ्यूज

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में चल रहे डिफेंस एक्सपो (Defense Expo) से भारतीय सेना को नई-नई तकनीकि मिल रही है। इसी में से एक है भारतीय एयर फोर्स (Indian Air Force) को मिलने वाला एक रोबोट, जो 1000 किलोग्राम के बम को आसानी से डिफ्यूज कर देगा। इसका प्रदर्शन लखनऊ के डिफेंस एक्सपो (Defense Expo) में किया गया है। वायुसेना जल्द ही इन्हें खरीद सकती है।

Defense Expo
यह रोबोट 1000 किलोग्राम के बम को आसानी से डिफ्यूज कर सकता है।

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में चल रहे डिफेंस एक्सपो (Defense Expo) से भारतीय सेना को नई-नई तकनीकि मिल रही है। इसी में से एक है भारतीय एयर फोर्स (Indian Air Force) को मिलने वाला एक रोबोट, जो 1000 किलोग्राम के बम को आसानी से डिफ्यूज कर देगा। वायुसेना जल्द ही इन्हें खरीद सकती है। सूत्रों के मुताबिक, अभी इस रोबोट को भारतीय वायुसेना में शामिल करने पर फैसला नहीं हुआ है। लेकिन एयरफोर्स की ओर से इसके कई ट्रायल किए जा चुके हैं।

इसे रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने तैयार किया है, जिसका प्रदर्शन लखनऊ के डिफेंस एक्सपो (Defense Expo) में किया गया है। डीआरडीओ (DRDO) के वैज्ञानिक आलोक मुखर्जी ने इस रोबोट पर चर्चा करते हुए कहा, “भारतीय वायुसेना के साथ हमने इस रोबोट के कई ट्रायल किए हैं, कई लोकेशन पर बम डिफ्यूज करने की प्रैक्टिस भी की गई है।” इन रोबोट को एक मोबाइल सेंटर के जरिए कंट्रोल किया जाएगा, यानी बम डिफ्यूज के लिए मानवीय क्षमता की जरूरत नहीं होगी।

इस रोबोट की खासियत ये है कि इसे दो किमी दूर से कंट्रोल किया जा सकता है। इसे कंट्रोल करने वाला व्यक्ति आसानी से बम की पहचान कर सकता है और उसे डिफ्यूज कर सकता है। गौरतलब है कि अबतक बम डिफ्यूज करने के लिए मानवीय बम दस्ते का इस्तेमाल होता था, जिसमें जान जाने का खतरा बना रहता था। लेकिन अगर यह रोबोट वायुसेना को मिलता है तो बम डिफ्यूज करने वाले दस्ते को होनेवाले जान के खतरे टल सकते हैं।

पढ़ें: मारा गया अल-कायदा का सरगना कासिम अल-रिमी, अमेरिका ने रखा था 10 मिलियन डॉलर का इनाम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here