CRPF अधिकारियों के लिए खुशखबरी, होम जोन में मिल सकेगी पोस्टिंग…

देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए तैनात सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) के जवान हर वक्त ड्यूटी पर मुस्तैद रहते हैं। भारत भूमि की रक्षा के लिए उन्हें अपने परिवार से दूर रहना पड़ता है। ऐसे में सीआरपीएफ (CRPF) ने अपने अधिकारियों के लिए एक गुड न्यूज दी है।

CRPF

सीआरपीएफ (CRPF) ने अपने अधिकारियों के लिए एक गुड न्यूज दी है। बल के ऐसे अधिकारी जिन्होंने अपनी सेवा के बीस साल घर से दूर गुजारे हैं, अब उन्हें होम जोन, होम स्टेट या इच्छानुसार पोस्टिंग मिल सकेगी।

देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए तैनात सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) के जवान हर वक्त ड्यूटी पर मुस्तैद रहते हैं। भारत भूमि की रक्षा के लिए उन्हें अपने परिवार से दूर रहना पड़ता है। ऐसे में सीआरपीएफ (CRPF) ने अपने अधिकारियों के लिए एक गुड न्यूज दी है। बल के ऐसे अधिकारी जिन्होंने अपनी सेवा के बीस साल घर से दूर गुजारे हैं, अब उन्हें होम जोन, होम स्टेट या इच्छानुसार पोस्टिंग मिल सकेगी।

सीआरपीएफ के डीजी डॉ. एपी महेश्वरी के अनुसार, बल अब इस योजना को लागू करने जा रहा है। इतना ही नहीं, इस बल में सभी अफसर और जवान, एक साल में सौ दिन अपने परिवार के साथ रहें, यह नियम भी लागू कर दिया गया है।

भारतीय सेना ने बीते 32 सालों में खोए इतने जवान, यहां जानें रक्षा मंत्रालय के आंकड़े

बता दें कि सीआरपीएफ (CRPF) में अफसरों के लिए होम जोन या होम स्टेट पोस्टिंग मिलना मुमकिन नहीं था। बहुत से अफसर ऐसे भी हैं, जो लंबे समय से दूरवर्ती इलाकों में तैनात रहे हैं। उनके सेवाकाल में ऐसे कम मौके आते हैं, जिनमें वे अपने गृह राज्य या उसके आसपास वाले राज्यों में पोस्टेड रहे हों।

डॉ. महेश्वरी के मुताबिक, हमें खुशी है कि सीआरपीएफ (CRPF) एक ऐसा बल है, जिसके सभी अधिकारी और जवानों ने खुद को देश के लिए समर्पित किया है। वे सदैव ‘देश सर्वप्रथम’ के कथन पर आगे बढ़ते हुए ड्यूटी देते हैं। हमारा भी फर्ज बनता है कि उनके लिए सकारात्मक नीतियां बनाकर उन्हें हरसंभव राहत देने का प्रयास करें।

ये भी देखें-

डीजी डॉ. महेश्वरी के अनुसार, जो अफसर अपनी बटालियन से बीच में ही किसी दूसरी ड्यूटी पर बाहर चले जाते हैं तो ऐसे में उनकी होम पोस्टिंग का कार्यकाल कम हो जाता है। अब ऐसा नहीं होगा। वह अधिकारी अपनी मूल तैनाती से जितने समय तक बाहर रहा है, उसे उतना ही अतिरिक्त समय मूल पोस्टिंग वाले क्षेत्र में दिया जाएगा। यानी उसका होम टाउन या होम जोन पोस्टिंग कार्यकाल बढ़ा देंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें