CRPF जवान की जमीन पर दबंगों ने किया कब्जा, वीडियो पोस्ट कर लगाई ये गुहार

सीआरपीएफ जवान का नाम योगेंद्र यादव है और यह वीडियो बिहार के गया का बताया जा रहा है। योगेंद्र टनकुप्पा के रहने वाले हैं। उनका कहना है कि प्रशासन की तरफ से कोई मदद नहीं मिल रही। न ही बात सुनी जा रही है।

सीआरपीएफ जवान योगेंद्र यादव।

छत्तीगसढ़ में नक्सलियों से मुठभेड़ के दौरान गोली खाने वाले सीआरपीएफ के एक जवान का वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है। इस वीडियो में सीआरपीएफ जवान दावा कर रहे हैं कि उनकी जमीन पर दबंगों ने कब्जा कर लिया है। जवान का कहना है कि वह देश के लिए गोली चल सकते हैं तो अपने परिवार की रक्षा के लिए भी गोली चला सकते हैं। उन्होंने कहा है कि कानून के चलते उनके हाथ बंधे हैं इसलिए वह ऐसा नहीं कर सकते।

सीआरपीएफ जवान का नाम योगेंद्र यादव है और यह वीडियो बिहार के गया का बताया जा रहा है। योगेंद्र टनकुप्पा के रहने वाले हैं। मानपुर के भुसुंडा के पास बुद्ध विहार कॉलोनी में उनका घर है। उन्होंने वायरल वीडियो में दावा किया है कि गांवों के दबंगों ने उनकी जमीन पर कब्जा किया हुआ है और उन्हें किसी तरह की मदद प्रशासन से नहीं मिल रही है।

कारगिल के हीरो कैप्टन विजयंत थापर ने ऐसे की थी पाक सेना की धुलाई

औरंगाबाद के नक्सल क्षेत्र देव में सीआरपीएफ के कोबरा में पोस्टेड योगेंद्र पराक्रम मेडल से भी सम्मानित हैं और नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में घायल हो चुके हैं। उनका कहना है कि प्रशासन की तरफ से कोई मदद नहीं मिल रही। न ही बात सुनी जा रही है। इस वजह उन्होंने एक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर अपनी आपबीती सबके सामने रखी ताकि किसी तरह की मदद मिल सके और दोषियों पर कार्रवाई हो सके।

वीडियो में वह कहते हैं कि शहीद होने पर जवानों को श्रद्धांजलि देने बहुत लोग आते हैं लेकिन जिंदा रहते कोई फरियाद तक नहीं सुनता। वह कहते हैं कि इस मसले पर वह एक साल से अलग-अलग दफ्तरों में चक्कर लगा चुके हैं लेकिन समस्या अबतक दूर नहीं हो सकी है।

छत्तीसगढ़: बस्तर में 10 हजार नक्सल समर्थकों का जमावड़ा!

यह भी पढ़ें