Delhi Riots: दंगाईयों ने जला दिया था रिटायर्ड कर्मी अलीश मोहम्मद का घर, CRPF ने आर्थिक मदद देकर निभाया फर्ज

केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) ने एक बार फिर अपना मानवधर्म निभाते हुए मिसाल पेश की है। महानिदेशक डॉ. एपी माहेश्वरी ने दिल्ली दंगों के पीड़ित सीआरपीएफ के पूर्व कर्मचारी की आर्थिक मदद की। डॉ. माहेश्वरी ने हेडक्वार्टर में सीआरपीएफ (CRPF) के रिटायर्ड हेड कॉन्सटेबल अलीश मोहम्मद को 11 लाख का चेक सौंपा।

CRPF
सीआरपीएफ (CRPF) के महानिदेशक डॉ. एपी माहेश्वरी ने अलीश मोहम्मद को 11 लाख का चेक सौंपा।

डॉ. माहेश्वरी ने इस मौके पर बल के सेवानिवृत्त कर्मचारियों और शहीदों के परिवारों को सीआरपीएफ परिवार का अभिन्न अंग बताया। उन्होंने कहा कि CRPF अपने शहीद जवानों, रिटायर्ड कर्मचारियों और उनके परिवारों के प्रति वचनबद्ध है। रिटायर्ड हेड कॉन्सटेबल अलीश मोहम्मद इस दौरान अपनी भावनाओं पर बड़ी मुश्किल से काबू पा सके। उनकी आंखें में आंसू थे।

अलीश मोहम्मद ने इस सपोर्ट के लिए डॉ. माहेश्वरी और सीआरपीएफ (CRPF) के प्रति आभार व्यक्त किया। बता दें कि अलीश मोहम्मद का घर दिल्ली के भागीरथी विहार इलाके में है। 25 फरवरी को इस इलाके में हुए दंगों में असामाजिक तत्वों ने उनके घर को क्षतिग्रस्त कर दिया था। अलीश मोहम्मद पड़ोसी की मदद से अपने बेटे के साथ किसी तरह वहां से सुरक्षित बाहर निकल पाए थे।

Delhi voilence: मां को चाय बनाने के लिए कह कर घर से निकले थे IB के कर्मचारी अंकित शर्मा…

बड़ी मुश्किल से उनकी जान बची थी, लेकिन उपद्रवियों ने उनके घर को तोड़-फोड़ कर रख दिया। इस मुश्किल घड़ी में सीआरपीएफ (CRPF) अलीश मोहम्मद के साथ मजबूती से खड़ी हुई है। सीआरपीएफ (CRPF) के इस सहयोग से अलीश को आर्थिक मदद तो मिली ही है, उससे कहीं अधिक उन्हें मानसिक और भावनात्मक संबल मिला है।

गौरतलब है कि दिल्ली दंगों में आम लोगों के साथ-साथ सुरक्षाबलों और उनके परिवारों को भी बड़ा नुकसान हुआ है। उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों के दौरान दंगाईयों ने सीमा सुरक्षा बल (BSF) के जवान मोहम्मद अनीस के खजूरी खास इलाके में स्थित घर में तोड़फोड़ की थी और उसे आग के हवाले कर दिया था। अनीस की शादी होने वाली है।

BSF ने अपने जवान की मदद के लिए दस लाख रुपए का चेक दिया था। अनीस पश्चिम बंगाल के सिलिगुड़ी जिले के राधाबाड़ी स्थित BSF कैंप में तैनात हैं। इसके अलावा इस हिंसा में दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्सटेबल रतनलाल शहीद हो गए थे। आईबी (IB) के कर्मचारी अंकित शर्मा की भी मौत इन दंगों में हो गई थी। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here