CRPF ने निभाया फर्ज, जानिए पुलवामा के शहीदों के परिजनों को किस तरह पहुंचाई मदद…

पुलवामा हमले (Pulwama Attack) के एक साल पूरे हो चुके हैं। 14 फरवरी को इसकी बरसी थी। सारे देश ने इस दिन हमारे 40 वीर जवानों की शहादत को याद किया। देशभर में शहीदों के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किए गए। लेकिन इस बीच कुछ खबरें आईं कि शहीदों के परिवारों को अब तक मुआवजा नहीं मिला है। इस पर केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) ने कहा है कि हम शहीदों के परिवारों की जिम्मेदारी के प्रति वचनबद्ध हैं।

CRPF
शहीदों के परिवारों की जिम्मेदारी के प्रति वचनबद्ध है CRPF।

पुलवामा हमले (Pulwama Attack) के एक साल पूरे हो चुके हैं। 14 फरवरी को इसकी बरसी थी। सारे देश ने इस दिन हमारे 40 वीर जवानों की शहादत को याद किया। देशभर में शहीदों के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किए गए। लेकिन इस बीच कुछ खबरें आईं कि शहीदों के परिवारों को अब तक मुआवजा नहीं मिला है। इस पर केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) ने कहा है कि हम शहीदों के परिवारों की जिम्मेदारी के प्रति वचनबद्ध हैं।

CRPF ने जारी किया बयान

पुलवामा हमले (Pulwama Attack) की पहली बरसी पर कुछ ऐसी खबरें आईं थीं जिनमें कहा गया था कि कई शहीदों के परिवार को मदद नहीं मिली है। इस पर CRPF ने बयान जारी कर कहा है कि पुलवामा शहीद के परिवारों को CRPF की तरफ से पूरा मुआवजा दे दिया गया है। सिर्फ एक शहीद के परिवार को कुछ कानूनी प्रक्रियाओं की वजह से मुआवजा नहीं मिल पाया है। 40 में से 19 शहीदों के परिजनों को फ्लैट दिए गए हैं। CRPF ने यह भी बताया कि 17 शहीद ऐसे हैं, जिनके परिवार में किसी ना किसी को राज्य सरकारों की ओर से नौकरियां भी दी गई हैं।

सभी शहीदों के परिवारों को मिला मुआवजा

CRPF ने बयान जारी कर कहा कि हर शहीद के परिजन को 2 करोड़, 16 लाख से लेकर 3 करोड़, 24 लाख रुपये तक की रकम दी गई है। आपको बता दें कि सरकार के अलावा ऑनलाइन पोर्टल्स के माध्यम से देशवासियों ने भी शहीदों के परिवार की मदद के लिए पैसे दिए थे। CRPF ने अपने बयान में कहा, “शहीदों के परिजन को दी गई नकद राशि के अलावा 40 में से 19 शहीदों के परिवार को रेजिडेंशियल फ्लैट्स दिए जा चुके हैं। 21 परिवारों को फ्लैट दिए जाने की प्रक्रिया जारी है। 17 शहीदों के परिवार में किसी ना किसी को अलग-अलग राज्य सरकारों द्वारा नौकरी भी दी गई है।”

शहीदों के परिवार के साथ हर कदम पर खड़े हैं- CRPF

CRPF ने कहा, “हम अपने शहीदों के परिवार और प्रियजनों के साथ हर कदम पर खड़े हैं।” रिलायंस फाउंडेशन ने भी शहीदों के परिवारों की मदद की है। उनके बच्चों की शिक्षा की जिम्मेदारी फाउंडेशन ने उठाई है। बता दें कि 14 फरवरी, 2019 को पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी ने सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) के काफिले को विस्फोटकों से भरे कार से टक्कर मार दिया था। इस फिदायीन हमले में 40 CRPF जवान शहीद हो गए थे। विस्फोटकों से भरी इस कार को जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी आदिल अहमद डार चला रहा था। इस हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी।

पढ़ें: उर्दू अदब के बादशाह थे मशहूर शायर मिर्ज़ा ग़ालिब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here