Covid-19 Vaccine Trial: आज से 4 राज्यों में शुरू होगा टीकाकरण का मॉकड्रिल, 2-2 जिलों में होगा तैयारियों का ट्रायल

देश में आज यानी 28 दिसंबर से दो दिनों तक कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के लिए टीकाकरण से पहले होने वाला ट्रायल से पंजाब सहित चार राज्यों में शुरू होने जा रहा है। यह 29 दिसंबर तक चलेगा।

Covid-19 Vaccine

टीकाकरण से पहले एक प्रकार का मॉकड्रिल होगा। इस दौरान किसी को टीका (Covid-19 Vaccine) नहीं लगेगा, लेकिन प्रक्रिया का पूरा पालन होगा।

देश में आज यानी 28 दिसंबर से दो दिनों तक कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के लिए टीकाकरण से पहले होने वाला ट्रायल से पंजाब सहित चार राज्यों में शुरू होने जा रहा है। यह 29 दिसंबर तक चलेगा। केंद्र सरकार पंजाब, असम, आंध्र प्रदेश और गुजरात चार राज्यों में ट्रायल चलाएगी। इन राज्यों के दो-दो जिलों में टीकाकरण की तैयारियों का ट्रायल होगा।

वैज्ञानिकों के मुताबिक, टीकाकरण से पहले एक प्रकार का मॉकड्रिल होगा। इस दौरान किसी को टीका नहीं लगेगा, लेकिन प्रक्रिया का पूरा पालन होगा। इस दौरान माइक्रो प्लानिंग, सेशन साइट मैनेटमेंट और ऑनलाइन डेटा सिक्योर करने जैसी कई चीजों का परीक्षण होगा। Co-Win मोबाइल ऐप के जरिए कोरोना वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) की हर गतिविधि पर नजर रखी जा सकती है।

पाकिस्तानी ड्रोनों से निपटने के लिए भारत लेगा इस नई तकनीकि की मदद

इस ऐप की खास बात ये है कि इसमें वैक्सीन से जुड़े कई पहलुओं, जानकारी और जरूरी डेटा को ऑनलाइन देखा जा सकेगा। स्वास्थ्य मंत्रालय ने 27 दिसंबर को बताया कि पंजाब, आंध्र प्रदेश, असम और गुजरात में यह ट्रायल किया जा रहा है। इन राज्यों में टीकाकरण से जुड़ी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं।

तैयारियों का जायजा लेने के लिए जरूरी है कि टीकाकरण से पहले सभी बिंदुओं की जांच कर ली जाए। इस दौरान कोल्ड चैन से लेकर लोगों के पंजीयन और टीका बूथ पर डोज देने के अलावा चिकित्सीय निगरानी किस तरह से की जाएगी, इसका पूरा अभ्यास जिला टीमें करेंगी। स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि 29 दिसंबर तक दो दिन के लिए यह अभ्यास कार्यक्रय किया जा रहा है।

ये भी देखें-

इसमें शारीरिक दूरी का ध्यान रखते हुए टीकाकरण कार्यक्रम किस तरह किया जाएगा। यह जानने का प्रयास होगा। इस पर पूरी निगरानी केंद्र सरकार भी रखेगी। कार्यक्रम से जुड़ी रूपरेखा और दिशा निर्देश संबंधित राज्यों को भेजे जा चुके हैं। कोविन एप (Co-Win) और वेबसाइट पर लॉग-इन कर जिला प्रशासन जानकारी साझा करेगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें