परमाणु नगरी पोखरण पर कोरोना का कहर, 24 घंटे में मिले 7 पॉजिटिव मरीज

जैसलमेर के जिला कलेक्टर और एसपी ने पोकरण पहुंचकर हालात का जायजा लिया। जैसलमेर में कुल आठ कोरोना (Coronavirus) पॉजिटिव मिले जिनमें सात पोकरण के हैं।

pokhran Coronavirus

पोकरण(Pokhran) कस्बा पाकिस्तान की सीमा से लगे राजस्थान के जैसलमेर जिले में है।

देश की शान परमाणु नगरी पोकरण पर कोरोना कहर बन कर टूटा है। यहां एक साथ सात लोगों में कोरोना (Coronavirus) पाया गया। इससे पोकरण ही नहीं राजस्थान में हड़कंप मच गया। यह सभी सातों 48 साल से लेकर 82 साल तक के उम्र दराज लोग हैं और इनमें कोरोना का संक्रमण यहीं के एक कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आने से फैला। यह व्यक्ति बीकानेर से संक्रमित होकर लौटा था। बताया जाता है कि वहां इसमें संक्रमण तब्लीगी जमाती के संपर्क में आने से हुआ था। इसकी कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट रविवार की शाम को आने के बाद से ही प्रशासन ने पोकरण में कर्फ्यू लगा दिया था तथा संक्रमितों की तलाशी के लिए सघन अभियान छेड़ दिया।

पोकरण नगर पालिका ने पूरे कस्बे को सेनेटाइज कराया। इन सातों को जोधपुर भेजा जा रहा है। जैसलमेर के जिला कलेक्टर और एसपी ने पोकरण पहुंचकर हालात का जायजा लिया। जैसलमेर में कुल आठ कोरोना (Coronavirus) पॉजिटिव मिले जिनमें सात पोकरण के हैं।

Covid-19 से बचाव करने वाले मास्क पर हफ्ते भर जिंदा रह सकता है वायरस

पोकरण कस्बा पाकिस्तान की सीमा से लगे राजस्थान के जैसलमेर जिले में है। पोकरण तहसील के खेतोलाई गांव में ही भारत ने अपने सभी परमाणु परीक्षणों को सफलता से अंजाम दिया है। परमाणु परीक्षणों की वजह से ही पोकरण को देश और दुनिया में भारत की परमाणु नगरी के नाम से जाना जाता है।

राजस्थान में कोरोना (Coronavirus) अब बड़ी तेजी से विस्तार ले रहा है। राजधानी जयपुर तो कोरोना के प्रकोप से बुरी तरह हलकान है ही‚ प्रदेश के दूसरे शहर और कस्बे भी अब कोरोना के ऐपिक सेंटर बनते जा रहे हैं।

पोकरण पर कोरोना कहर बरपने से पहले प्रदेश की कोचिंग सिटी कोटा को इस बीमारी ने अपनी जद में ले लिया। यहां एक साथ दस कोरोना रोगियों के मिलने से यह शहर भी एकाएक कोरोना (Coronavirus) हॉट स्पॉट बन गया।

स्थिति की गंभीरता को देखते हुए कोटा शहर से विधायक और प्रदेश के यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल भी तत्काल कोटा पहुंच गए और अधिकारियों की बैठक लेकर पूरे हालात की समीक्षा की।

इस शहर के कई इलाकों में एहतियात के तौर पर कर्फ्यू लगा दिया गया है। इनके अलावा प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा शहर जोधपुर भी कोरोना (Coronavirus) से बुरी तरह प्रभावित है। यहां नौ नए कोरोना मरीज मिले। इनको मिलाकर जोधपुर में कोरोना रोगियों की कुल संख्या 30 हो गई है।

इनके अलावा टोंक‚ झुंझुनूं‚ भीलवाड़ा‚ बीकानेर‚ अजमेर कोरोना के हॉट स्पॉट बने हैं। इन सभी जिलों में कोरोना के फैलाव को रोकने के लिए प्रशासन ने सैकड़ों लोगों को उनके घरों में होम आइसोलेशन पर अथवा अस्पतालों में क्वारेंटाइन में रखा है।

परमाणु – द स्टोरी ऑफ पोखरण: ‘स्माइलिंग बुद्धा’ने दुनियाभर में मचा दिया था हड़कंप

यह भी पढ़ें