भारत के खिलाफ ड्रैगन की खतरनाक चाल, नेपाल-तिब्बत के सरहदी गांवों में नागरिक के तौर पर अपनी सेना बसा रहा चीन

चीन (China) उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के पास भी ऐसा ही एयरपोर्ट बना रहा है‚ जो बुरांग काउंटी में है। ये इलाका भारत–नेपाल–तिब्बत ट्राईजंक्शन के बेहद करीब है। यहां से पिथौरागढ़ महज 50 किलोमीटर की हवाई दूरी पर होगा।

China

भारत के खिलाफ चीन (China) अपने पैंतरेबाजी से बाज नहीं आ रहा है। पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में भारतीय सेना से मुंह की खाने के बाद बौखलाये ड्रैगन को ये तो पता चल गया है कि भारत अब बदल गया है और भारतीय सेना से पीएलए की लाल सेना सीधी टक्कर नहीं ले सकती है, लिहाजा चीन कभी कंगाल पाकिस्तान को आर्थिक मदद देकर भारत के खिलाफ उसकाता है तो कभी नेपाल को। भारत को घेरने के लिए चीन अब भारत-नेपाल सीमा पर अपनी सेना को नागरिकों के तौर पर वहां बसा भी रहा है।

रक्षा क्षेत्र में ‘आत्मनिर्भर भारत’ को मिला बल, रक्षा मंत्री ने रिसर्च व इनोवेशन के लिए 499 करोड़ बजट को दी मंजूरी

भारतीय सुरक्षाबलों से पिटने के बाद बौखलाये चीन (China) ने पहले पाकिस्तान और अब नेपाल के रास्ते भारत को घेरने की खतरनाक योजना बनाया है। चीन अब उन सरहदों पर भी जिस पर उसका कोई अधिकार नहीं है वहां भी अपनी हरकतें करने से बाज नहीं आ रहा है। चीन पाकिस्तान को अपनी कठपुतली बनाकर पहले ही भारतीय सीमाओं के करीब अपनी पहुंच बना चुका है। ऐसा माना जा रहा है कि चीन का आदेश पास सेना का फरमान माना जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ श्रीलंका के दो बड़े बंदरगाह पर अपना कब्जा जमाने के बाद हिंद महासागर में भारत की मजबूती को चैलेंज देने के लिए चीन पहले ही से ही तैनात हो गया है। बांग्लादेश को भी चीन धीरे-धीरे अपने आर्थिक शिकंजे में लेने की कोशिश कर ही रहा है।

खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, चीन (China) अब भारत–नेपाल और भारत–तिब्बत के सीमावर्ती इलाकों में गांव बसा रहा है और अपनी सेना को वहां के स्थानीय नागरिकों के तौर पर बसा भी रहा है। साथ ही भारतीय सीमा के समीप उन इलाकों में वह अपने एयरपोर्ट के निर्माण को भी तेजी से पूरा कर रहा है।

खुफिया सूत्रों के अनुसार, चीन अपनी नेपाल सीमा के करीब टिंगरी काउंटी पर एक नया एयरपोर्ट बना रहा है। वैसे तो ये टिंगरी काउंटी तिब्बत का इलाका है लेकिन ये जिस जगह है वो बेहद संवेदनशील है। इस इलाके से न सिर्फ चीन‚ नेपाल के बेहद करीब है‚ बल्कि यहां से सिक्किम की दूरी भी बहुत कम है। टिंगरी काउंटी से सिक्किम की सीमा का हवाई डिस्टेंस महज 70-80 किलोमीटर है और इस एयरपोर्ट के बन जाने से चीन न सिर्फ नेपाल के इलाके बल्कि सिक्किम के नजदीक भी हावी होने की कोशिश कर सकता है।

चीन (China) उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के पास भी ऐसा ही एयरपोर्ट बना रहा है‚ जो बुरांग काउंटी में है। ये इलाका भारत–नेपाल–तिब्बत ट्राईजंक्शन के बेहद करीब है। यहां से पिथौरागढ़ महज 50 किलोमीटर की हवाई दूरी पर होगा। ये कैलाश मानसरोवर का भी नया रूट है‚ जिस पर भारत काम कर रहा है। ऐसे में चीन चारों तरफ से नाकेबंदी करके धीरे-धीरे भारत को साधने की कोशिश में लगा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें