LAC पर जारी तनाव के बीच चीन ने 5 भारतीय नागरिकों को आजाद किया, जानें पूरा मामला

ये पांचों भारतीय नागरिक अरुणाचल प्रदेश के उपरी सुवानसिरी में राह भटक कर चीन (China) की सीमा में चले गए थे। चीनी सैनिकों ने उन्हें भारत को सौंप दिया।

India China Tension

फाइल फोटो।

भारत और चीन (China) के तनाव के बीच एक अच्छी खबर है। अरुणाचल प्रदेश के जो पांच भारतीय नागरिक रास्ता भटककर चीन की सीमा में चले गए थे, उन्हें चीन ने आज भारत को वापस सौंप दिया है।

दरअसल ये पांचों भारतीय नागरिक अरुणाचल प्रदेश के उपरी सुवानसिरी में राह भटक कर चीन (China) की सीमा में चले गए थे। वाचा के नजदीक चीनी सैनिकों ने उन्हें भारतीय सैनिकों को सौंप दिया।

बता दें कि अरुणाचल प्रदेश की सीमा चीन से सटी हुई है, हालही में उस पर एक बड़ी खबर सामने आई थी। आरोप था कि चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने बॉर्डर से 5 भारतीयों को पकड़ लिया है और उन्हें छोड़ नहीं रहे हैं। भारतीय सेना ने इस मामले में PLA से शिकायत भी की थी।

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: नाले से मिला भागे हुए आतंकी का शव, बडगाम में 4 दिन पहले सुरक्षाबलों से हुई थी मुठभेड़

अरुणाचल प्रदेश से कांग्रेस विधायक निनॉन्ग इरिंग ने ये खुलासा किया था। उन्होंने ट्विटर पर कहा था कि चीनी सेना PLA ने भारत के 5 युवकों को अगवा कर लिया है। ये लोग मछली पकड़ने के लिए गए थे। इरिंग का कहना था कि चीनी सेना केवल लद्दाख नहीं बल्कि अरुणाचल प्रदेश में भी आ गई है।

कांग्रेस नेता ने अपने ट्वीट में जिन 5 लोगों के अगवा होने का जिक्र किया था, उसमें तानू बाकर, प्रसाद रिंगलिंग, नगारू डिरी, डोंगतू इबिया और तोच सिंगकाम का नाम शामिल था।

इस मामले में केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू का बयान भी सामने आया था क्योंकि वो भी अरुणाचल प्रदेश से आते हैं। उन्होंने कहा था कि इस मामले को चीन के सामने उठाया गया है, अब भारत को चीन के जवाब का इंतजार है।

ये भी देखें- 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें