Chhattisgarh: सुकमा में नक्सलियों ने 2 युवकों की हत्या की, पुलिस मुखबिरी के शक में घटना को दिया अंजाम

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सुकमा (Sukma) जिले में नक्सलियों (Naxalites) ने एक बार फिर नापाक हरकत की है। जिले में नक्सलियों (Naxals) ने दो युवकों की हत्या (Murder) कर दी है।

Naxalites

सांकेतिक तस्वीर।

नक्सली (Naxalites)  लोगों में खौफ पैदा करने के लिए ऐसी कायराना हरकतों को अंजाम देते हैं। वे दहशत पैदा कर अपना वर्चस्व कायम रखना चाहते हैं।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सुकमा (Sukma) जिले में नक्सलियों (Naxalites) ने एक बार फिर नापाक हरकत की है। जिले में नक्सलियों (Naxals) ने दो युवकों की हत्या (Murder) कर दी है। मृतकों का शव जिले के मिलापल्ली गांव से बरामद हुआ है। जानकारी के अनुसार, नक्सलियों ने पुलिस (Police) के लिए मुखबिरी करने के शक में इन दोनों युवकों की हत्या की है।

मृतकों में एक 21 वर्षीय युवक और दूसरा 15 वर्षीय लड़का है। 21 वर्षीय युवक का भाई बस्तर बटालियन में जवान है। बताया जाता है कि नक्सली इस इलाके के लोगों को पुलिस की नौकरी छोड़ने की धमकी देते हैं। वहीं, 15 वर्षीय स्कूली छात्र ताती हड़मा के पिता सहायक आरक्षक रहे हैं।

Jharkhand: पश्चिम सिंहभूम पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, महाराजा प्रमाणिक दस्ते का सक्रिय नक्सली गिरफ्तार

नक्सलियों की धमकी के बाद उन्होंने पुलिस की नौकरी छोड़ दी थी। अब नक्सलियों ने उनके बेटे को निशाना बनाया है। माओवादियों ने हत्या के बाद घटना स्थल पर एक पर्चा छोड़ा है, जिसमें दोनों पर पुलिस के मुखबिरी का काम करने आरोप लगाया है।

सुकमा के एसपी केएल ध्रुव ने इस घटना की पुष्टि की है। एसपी के अनुसार, नक्सलियों ने दोनों की हत्या कर दी। शव के पास से एक नोट भी बरामद हुआ है।

नक्सली इलाके में शिक्षा की रोशनी फैला रहे पवन, गरीब बच्चों को पढ़ाने के लिए कर रहे दिन-रात मेहनत

एसपी ने बताया कि नक्सलियों को इन युवकों पर पुलिस के मुखबिर होने का शक था। इसलिए दोनों को मौत के घाट उतार दिया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बता दें कि नक्सली (Naxalites)  लोगों में खौफ पैदा करने के लिए ऐसी कायराना हरकतों को अंजाम देते हैं। वे दहशत पैदा कर अपना वर्चस्व कायम रखना चाहते हैं। हालांकि, पुलिस और सुरक्षाबल नक्सलियों की इस नापाक मंशा को अच्छी तरह समझते हैं।

ये भी देखें-

इसलिए नक्सलियों की नकेल कसने के लिए लगातार अभियान चलाए जा रहे हैं। साथ ही लोगों के बीच जाकर उनसे बातचीत करने उनके मन से नक्सलियों का डर दूर करने की कोशिश भी पुलिस प्रशासन कर रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें