Chhattisgarh: सुकमा में नक्सलियों की कायराना करतूत, सड़क निर्माण में लगे कर्मचारी की हत्या की

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल प्रभावित सुकमा (Sukma) जिले में नक्सलियों (Naxalites) ने एक बार फिर कायराना हरकत की है। नक्सलियों ने सड़क निर्माण कार्य में लगे कर्मचारी की हत्या कर दी है।

Naxalites

Naxalites

गांव में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है। नक्सलियों (Naxalites) ने कर्मचारियों से कहा कि वह वहां से चले जाएं।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल प्रभावित सुकमा (Sukma) जिले में नक्सलियों (Naxalites) ने एक बार फिर कायराना हरकत की है। नक्सलियों ने सड़क निर्माण कार्य में लगे कर्मचारी की हत्या कर दी है। नक्सली यही नहीं रूके, उन्होंने निर्माण कार्य में लगे मशीनों में आग भी लगा दी। सुकमा जिले के पुलिस अधिकारियों ने 16 अप्रैल को यह जानकारी दी।

पुलिस के मुताबिक, जिले के दोरनापाल और जगरगुंडा गांव के मध्य गोरगुंडा गांव के करीब नक्सलियों ने सड़क निर्माण कार्य से जुड़े ठेकेदार के मुंशी भास्कर की धनुष बाण से हत्या कर दी है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार, पुलिस को जानकारी मिली है कि 16 अप्रैल की शाम करीब 4.30 बजे हथियारबंद नक्सली गोरगुंडा गांव के करीब पहुंचे।

Mahakumbh: पीएम मोदी ने कुंभ को लेकर स्वामी अवधेशानंद से की बात, कोरोना के खतरे को देखते हुए की ये अपील

गांव में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है। नक्सलियों (Naxalites) ने कर्मचारियों से कहा कि वह वहां से चले जाएं। बाद में उन्होंने जेसीबी मशीन में आग लगा दी। जब नक्सली वहां खड़े ट्रक में आग लगाने की कोशिश कर रहे थे तब भास्कर ने उन्हें रोकने की कोशिश की। तब नक्सलियों ने धनुष बाण मारकर उसकी हत्या कर दी। बाद में नक्सली वहां से फरार हो गए।

घटना की जानकारी मिलने पर घटनास्थल के लिए पुलिस दल रवाना किया गया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। पुलिस के अनुसार, क्षेत्र में नक्सलियों के खिलाफ अभियान में सुरक्षाबलों को रवाना किया गया है। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर क्षेत्र में नक्सली वहां सड़क निर्माण कार्य का विरोध करते हैं।

ये भी देखें-

इस दौरान वह निर्माण कार्य में बाधा पहुंचाते हैं और सुरक्षा बलों, ठेकेदारों, उनके कर्मचारियों पर हमला करते हैं तथा निर्माण कार्य में लगे वाहनों में आग लगा देते हैं। यह पहली बार नहीं है जब नक्सलियों ने ऐसी वारदात को अंजाम दिया है। नक्सली (Naxalites) हमेशा से ही विकास के खिलाफ रहे हैं और आए विकास कार्यों को रोकने के लिए ऐसे हथकंडे अपनाते हैं जिससे लोग दहशत में रहें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें