छत्तीसगढ़: सुकमा में 10 सालों से सक्रिय नक्सली धराया, पुलिस पार्टी पर हमले और आगजनी जैसे कई वारदातों को दे चुका है अंजाम

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल (Naxal) प्रभावित सुकमा जिले में पुलिस ने एक हार्डकोर नक्सली को गिरफ्तार किया। नक्सली की गिरफ्तारी जिले के चिंतागुफा थाना क्षेत्र के टेकलपारा के जंगलों से हुई। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

Naxal
सांकेतिक तस्वीर।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल (Naxal) प्रभावित सुकमा जिले में पुलिस ने एक हार्डकोर नक्सली को गिरफ्तार किया। नक्सली की गिरफ्तारी जिले के चिंतागुफा थाना क्षेत्र के टेकलपारा के जंगलों से हुई। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। सुकमा पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, चिंतागुफा थाना क्षेत्र के टेकलपारा के जंगलों से आरोपी नक्सली (Naxal) वेको मासा को गिरफ्तार किया गया। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि आरोपी वेको मासा चिंतागुफा थाना क्षेत्र के टेकलपारा में देखा गया है।

इसके बाद 26 जनवरी को पुलिस ने डीआरजी (DRG) की टीम को सर्चिंग के लिए रवाना किया। डीआरजी (DRG) की टीम ने घेराबंदी कर आरोपी नक्सली (Naxal) को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। वेको मासा सुकमा में 10 सालों से सक्रिय था और कई नक्सली घटनाओं में उसका हाथ रहा है। वह पुलिस पार्टी पर हमला करने, ग्रामीणों को धमकाने, आगजनी जैसे कई नक्सली वारदातों में आरोपी है। उसकी तलाश लंबे समय से की जा रही थी।

पढ़ें: दिल्ली में Corona Virus की दस्तक! राम मनोहर लोहिया अस्पताल में 3 संदिग्ध मामले सामने आए

बता दें कि छत्तीसगढ़ में होने वाले पंचायत चुनावों का नक्सलियों ने बहिष्कार किया है। इसी वजह से वे लगातार हिंसक घटनाओं को अंजाम देकर दहशत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। नक्सलियों के मंसूबों को देखते हुए पुलिस और सुरक्षाबल मुस्तैद हैं। राज्य में लगातार नक्सल (Naxal) विरोधी अभियान चलाए जा रहे हैं। इसका नतीजा है कि आए दिन नक्सलियों की गिरफ्तारी हो रही है। 7 दिन पहले ही सुरक्षाबल के जवानों ने सुकमा के चिंतलनार थाना क्षेत्र से चार नक्सलियों (Naxals) को गिरफ्तार किया था।

गिरफ्तार किए गए चारों नक्सलियों पर पुलिस पार्टी पर हमले का आरोप है। गिफ्तार नक्सलियों के नाम मड़कम कोसा, मड़कम जोगा, माड़वी जोगा और बारसे देवा है। इन चारों पर सुकमा और आसपास के जिलों में पुलिस पार्टी पर हमले और वाहनों में आगजनी समेत कई मामले दर्ज थे। पुलिस को लंबे समय से इनकी तलाश थी। सुरक्षाबलों ने सर्चिंग के दौरान चारों को गिरफ्तार किया। सुकमा एसपी शलभ सिन्हा के अनुसार, गिरफ्तार किए गए चारों आरोपी नक्सलियों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।

पढ़ें: चादर से मुंह ढंक एसपी ऑफिस पहुंची नरसंहार की आरोपी महिला नक्सली, बोली- सरेंडर करना है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here