गृहमंत्री ने नक्सल समस्या पर की थी बैठक, अगले ही दिन छत्तीसगढ़ से धरे गए 5 नक्सली

नक्सलियों की धर-पकड़ के लिए पूरे इलाके में डीआरजी टीम द्वारा लगातार सख्त अभियान चलाया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा नक्सल प्रभावित इलाकों में जोर-शोर से नक्सल उन्मूलन अभियान चलाया जा रहा है। गृहमंत्री अमित शान ने 26 अगस्त को नक्सल समस्या से ग्रसित 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की थी और स्थिति का जायजा लिया था।

5 Naxalites Arrested, 5 Naxalies Arrest in Sukma, Naxal movement, Naxal Issues, Home Minister Amit Shah, Amit Shah Meeting on Naxal Issues, Huge Explosive Recovered from Naxalies, Naxalies Arrest before Planting Bomb, Chhattisgarh, Sukma News, Naxal News, पांच नक्सली गिरफ्तार, गृहमंत्री अमित शाह की नक्सल मुद्दे पर बैठक, नक्सलियों से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद, सिर्फ सच, sirf sach, sirfsach.in

नक्सल समस्या पर गृहमंत्री अमित शाह की बैठक के एक दिन बाद ही 27 अगस्त को छत्तीसगढ़ पुलिस ने नक्सल प्रभावित इलाके सुकमा से पांच नक्सलियों को गिरफ्तार किया।

नक्सलियों के खिलाफ छत्तीसगढ़ पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। नक्सल समस्या पर गृहमंत्री अमित शाह की बैठक के एक दिन बाद ही 27 अगस्त को छत्तीसगढ़ पुलिस ने नक्सल प्रभावित इलाके सुकमा से पांच नक्सलियों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने इनके पास से भारी मात्रा में खतरनाक विस्फोटक बरामद किए। बरामद विस्फोटक का इस्तेमाल लैंड माइन्स समेत अन्य तरह के खतरनाक धमाकों के लिए किया जाता है। पुलिस के अनुसार, नक्सली अगर अपनी साजिश में कामयाब हो जाते तो बड़ी तबाही हो सकती थी। पुलिस के अनुसार, गिरफ्तार नक्सली बम इंप्लांट की साजिश कर रहे थे।

भेजी थाना के डीआरजी प्रभारी उप निरीभक कृष्णचंद्र सिदार के मुताबिक, गुप्त सूचना के आधार पर नक्सलियों को गिरफ्तार करने में सफलता मिली। जानकारी के मुताबिक, सुरक्षाबलों की टीम एलारमड़गू की तरफ जा रही थी। रास्ते में टीम को कुछ संदिग्ध गतिविधि नजर आई। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर उन्हें मौके से गिरफ्तार कर लिया। तलाशी में गिरफ्तार नक्सलियों के पास से 20 मीटर तार, 12 पीस पेंसिल सेल, तीन जिलेटिन रॉड और बम बनाने का अन्य सामान बरामद हुआ। गिरफ्तार नकस्लियों की पहचान करतम कोसा उर्फ डाकी, माड़वी हुंगा, पोड़ियम सूला, माड़वी गंगा और कवासी हुंगा के रूप में हुई है।

पढ़ें: रक्षा मंत्री ने पाकिस्तान को चेताया, कहा- जम्मू कश्मीर पर कोई हक नहीं है उनका

नक्सलियों की धर-पकड़ के लिए पूरे इलाके में डीआरजी टीम द्वारा लगातार सख्त अभियान चलाया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा नक्सल प्रभावित इलाकों में जोर-शोर से नक्सल उन्मूलन अभियान चलाया जा रहा है। गृहमंत्री अमित शान ने 26 अगस्त को नक्सल समस्या से ग्रसित 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की थी और स्थिति का जायजा लिया था। यह मीटिंग दिल्ली के विज्ञान भवन में हुई। बैठक में उन्होंने नक्सल समस्या से निपटने के नए तरीकों पर भी चर्चा की थी। इस दौरान उन्होंने अभियान में तेजी लाने वाले और नक्सल समस्या को जड़ से खत्म करने वाले प्रयासों में तेजी लाने के निर्देश दिए थे।

इस बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (बिहार), नवीन पटनायक (ओडिशा), योगी आदित्यनाथ (उत्तर प्रदेश), कमलनाथ (मध्य प्रदेश), रघुबर दास (झारखंड) वाई एस जगनमोहन रेड्डी (आंध्र प्रदेश) और भूपेश बघेल (छत्तीसगढ़) ने हिस्सा लिया। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण, रविशंकर प्रसाद, नरेंद्र सिंह तोमर, अर्जुन मुंडा और महेंद्र नाथ पांडेय भी बाद में बैठक में शामिल हुए और मुख्यमंत्रियों के साथ सड़क, दूरसंचार, कृषि और अन्य मुद्दों पर चर्चा की।

पढ़ें: नागा महिला बटालियन का वीडियो वायरल, कई हस्तियों ने किया ट्वीट

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App