छत्तीसगढ़: सुकमा के चिंतागुफा में मुठभेड़, एक महिला नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के चिंतागुफा में सुरक्षाबलों और नक्सलियों की मुठभेड़ हुई। सुकमा के चिंतागुफा के जंगलों में सर्च ऑपरेशन के दौरान केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) की 206 बटालियन फॉर रिजॉल्यूट एक्शन (CoBRA) और नक्सलियों के बीच यह मुठभेड़ हुई।

CRPF
फाइल फोटो।

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के चिंतागुफा में सुरक्षाबलों और नक्सलियों की मुठभेड़ हुई। सुकमा के चिंतागुफा के जंगलों में सर्च ऑपरेशन के दौरान केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) की 206 बटालियन फॉर रिजॉल्यूट एक्शन (CoBRA) और नक्सलियों के बीच यह मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में जवानों ने एक महिला नक्सली को ढेर कर दिया। 19 फरवरी की सुबह जवानों ने महिला नक्सली का शव बरामद कर लिया।

मारी गई नक्सली के शव के साथ एक हथियार भी बरामद हुआ। CRPF के सूत्रों के मुताबिक, मुठभेड़ अभी जारी है। बता दें कि राज्य में नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन जारी है। 18 फरवरी की शाम सुकमा में ही नक्सलियों के साथ सुरक्षाबलों की मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में सीआरपीएफ (CRPF) का एक जवान शहीद हो गया। जबकि एक जवान घायल हो गया।

सीआरपीएफ 208 कोबरा बटालियन के जवान नक्सलियों की मौजूद होने की सूचना पर सर्चिंग के लिए निकले थे। इसी दौरान घात लगाए नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी। एसपी शलभ सिन्हा ने एन्काउंटर की पुष्टि की है। करीब 15-20 मिनट चली मुठभेड़ के बाद नक्सली वहां से भाग निकले। कई नक्सलियों को गोली लगने की भी खबर है।हालांकि इस मुठभेड़ में जवान इंद्रजीत सिंह ओर कनई मांझी गंभीर रूप से घायल हो गए।

घायल जवानों को किस्टाराम कैंप लाया गया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें शाम करीब 6.30 बजे एयरलिफ्ट कर रायपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि उपचार के दौरान कनई मांझी की मौत हो गई। कनई पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले के रहने वाले थे और सीआरपीएफ में कांस्टेबल थे। जबकि दूसरे जवान इंद्रजीत अभी अस्पताल में भर्ती हैं।

पढ़ें: पुलवामा के त्राल में आतंकी मुठभेड़, जवानों ने तीन आतंकियों को मार गिराया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here