छत्तीसगढ़: नक्सलियों ने जंगल में बना रखी है जेल, जनअदालत में सजा देने के बाद करते हैं कैद

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ अभियान जारी है, जिसका असर ये हुआ है कि नक्सली संगठन बैकफुट पर आ गए हैं ।

Home Minister Amit Shah

फाइल फोटो

सरेंडर कर चुके नक्सली बदरना ने नक्सली (Naxalites) संगठन के काले सच के बारे में बड़े खुलासे किए हैं। बदरना ने बताया है कि नक्सलियों ने जंगल में एक जेल भी बना रखी है, जनअदालत में सजा देने के बाद यहां लोगों को रखा जाता है।

बस्तर: छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के खिलाफ अभियान जारी है, जिसका असर ये हुआ है कि नक्सली संगठन बैकफुट पर आ गए हैं और उनके पास सरेंडर करने के अलावा कोई और रास्ता नहीं बचा है।

सुरक्षाबलों ने भी ये साफ कर दिया है कि नक्सली या तो सरेंडर करके मुख्यधारा में जुड़ें या फिर मरने के लिए तैयार रहें।

Uttar Pradesh: सोनभद्र में फिर मिला नक्सलियों का धमकी भरा पत्र, मचा हड़कंप

इस बीच सरेंडर कर चुके नक्सली बदरना ने नक्सली संगठन के काले सच के बारे में बड़े खुलासे किए हैं। बदरना ने बताया है कि नक्सलियों ने जंगल में एक जेल भी बना रखी है, जनअदालत में सजा देने के बाद यहां लोगों को रखा जाता है।

जनअदालत में अपराधी पर आरोप तय किए जाते हैं और फिर नक्सली ग्रामीणों से पूछते हैं कि उसे क्या सजा देनी चाहिए। जिन अपराधियों को कैद में रखने की सजा होती है, उन्हें जंगल में बनीं इन जेलों में रखा जाता है। इसके अलावा कई अपराधियों को मौत की सजा भी दी जाती है।

जिन अपराधियों को नक्सली जेल में रखते हैं, उन्हें अपने परिजनों से नहीं मिलने दिया जाता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें