छत्तीसगढ़: दंतेवाड़ा में CRPF पर नक्सलियों का बड़ा हमला टला, 41 किलो IED बरामद

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने एक बार फिर सुरक्षाबलों को निशाना बनाने का प्रयास किया। जिले में नक्सलियों ने सीआरपीएफ (CRPF) के जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए आईईडी (IED) प्लांट किया था।

CRPF

सर्चिंग में बरामद आईईडी।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (Dantewada) में नक्सलियों ने एक बार फिर सुरक्षाबलों को निशाना बनाने का प्रयास किया। जिले में नक्सलियों (Naxalites) ने सीआरपीएफ (CRPF) के जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए आईईडी (IED) प्लांट किया था। दरअसल, सीआरपीएफ (CRPF) जवान कोरोना संक्रमण के दौरान ग्रामीणों को राहत सामग्री बांटकर लौट रहे थे।

इस दौरान रास्ते में करीब 41 किलो के 7 कमांड आईईडी (IED) बरामद हुए। इन्हें समय रहते डिफ्यूज कर दिया गया। घटना सीआरपीएफ (CRPF) कैंप से महज 3 किमी दूर हुई। इसकी पुष्टि सीआरपीएफ (CRPF) डीआईजी डीएन लाल ने की है। जानकारी के मुताबिक, सीआरपीएफ (CRPF) 231वीं बटालियन का कैंप कोंडासावली गांव में है।

बिहार: जमुई में नक्सलियों का उपद्रव, मजदूरों के साथ मारपीट कर जेसीबी में लगाई आग

जवान यहां से सिविक एक्शन प्लान के तहत ग्रामीण बस्ती में खाद्य सामग्री और कोरोना (Coronavirus) संक्रमण से निपटने के लिए अन्य सामान बांटने गए थे। इस दौरान ग्रामीणों को संक्रमण से निपटने के उपाय और सरकार की गाइडलाइन के बारे में जानकारी दी गई। वहां से लौटने के दौरान रास्ते में जवानों को जगरगुंडा मार्ग पर दो नक्सली (Naxali) भागते हुए दिखाई दिए।

इस पर जवानों ने उनका पीछा किया, लेकिन जंगल का फायदा उठाकर वे भाग निकले। इसके बाद जवानों ने रास्ते में और आस-पास में सर्चिंग अभियान चलाया। इस दैरान जवानों ने 7 आईईडी (IED) बम बरामद किए। इसमें 3 टिफिन बम 18 किग्रा, 3 छाता टाइप बम 15 किग्रा, 1 कुकर बम 8 किग्रा शामिल हैं। इन सारे बमों को बटालियन की बीडीडीएस टीम ने डिफ्यूज कर दिया। फिलहाल इलाके में सर्चिंग बढ़ा दी गई है। नक्सलियों (Naxals) की धर-पकड़ के लिए इलाके में अभियान तेज कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें