छत्तीसगढ़: नक्सलियों की घिनौनी करतूत, दंतेवाड़ा में ग्रामीण की गला रेतकर हत्या

chhattisgarh, dantewada, Dantewada by election, murder before Dantewada by election, Loksabha election 2019, murder in dantewada, naxali murder in dantewada, छत्तीसगढ़. दंतेवाड़ा, नक्सली हत्या. दंतेवाड़ा में नक्सली हत्या दंतेवाड़ा उप चुनाव से पहले नक्सली ने की हत्या, लोकसभा चुनाव 2019, दंतेवाड़ा में नक्सली वारदात, उपचुनाव से पहले दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या, पुलिस मुखबिरी के शक में हत्या, naxalis killed a villager beore dantewada by election, murder in suspicion on police informer नक्सलियों का पर्चा, sirf sach, sirfsach.in, सिर्फ सच
नक्सलियों ने गला रेतकर ग्रामीण को मौत के घाट उतार दिया

छत्तीसगढ़ में होने वाले दंतेवाड़ा उपचुनाव से ठीक पहले नक्सलियों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। राज्य के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने पुलिस मुखबिरी के शक में एक ग्रामीण की हत्या कर दी। नक्सलियों ने गला रेतकर ग्रामीण को मौत के घाट उतार दिया और शव को एस्सार परियोजना के पास सड़क के बीचो-बीच फेंक दिया गया। शव के पास नक्सलियों ने पर्चे भी फेंके हैं। पर्चे में मृतक ग्रामीण को पुलुम पंचायत निवासी मीडियम मंजाल बताया गया है और नक्सलियों ने उस पर मुखबिरी का आरोप लगाया है। यह पूरा मामला किरंदुल थाना क्षेत्र का है। जानकारी के मुताबिक, दहशत फैलाने के मकसद से नक्सलियों ने यह हत्या की है।

नक्सलियों ने ग्रामीण पर पुलिस का मुखबिर होने का आरोप लगाया है। नक्सलियों ने पॉलीथिन में पर्चे को रखा है ताकि बारिश में पर्चा खराब न हो। साथ ही शव में बम या विस्फोटक लगे होने की आशंका भी जताई जा रही है। इस वजह से पुलिस ने शव को घटना स्थल से नहीं हटाया है। बीडीएस की टीम को घटना के बारे में तत्काल सूचित कर दिया गया। टीम जांच-पड़ताल करने के बाद ही शव को कब्जे में लेगी। गौरतलब है कि आए दिन विधानसभा क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव से पहले नक्सली अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की कोशिश कर रहे हैं।

पढ़ें: तेजस ने की सफलतापूर्वक ‘अरेस्टेड लैंडिंग’, नेवी होगी और ताकतवर

इससे पहले, सुकमा में नक्सलियों ने बड़े धमाके की तैयारी की थी। नक्सलियों के निशाने पर थे सुरक्षाबल के जवान। लेकिन वक्त रहते सुरक्षाबलों ने नक्सलियों की इस साजिश को नाकाम कर दिया। दरअसल, छत्‍तीसगढ़ के सुकमा स्‍थित तिमेलवडा के पास सुरक्षा बलों ने शुक्रवार को आईईडी बरामद किया है। बरामद हुए 20 किलोग्राम विस्‍फोटकों को सबसे पहले सुरक्षा बलों ने निष्‍क्रिय कर दिया। बताया जा रहा है कि नक्सलियों का इरादा जवानों को नुकसान पहुंचाने का था। पर समय रहते आईईडी को निष्क्रिय कर सुरक्षाबलों ने उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया। यह इलाका चिंतागुफा पुलिस स्‍टेशन के तहत आता है।

मिली जानकारी के अनुसार, विस्फोटक की जो मात्रा बरामद हुई है वह बड़े वाहनों के परखच्‍चे उड़ाने के लिए पर्याप्‍त है। गौरतलब है कि सीआरपीएफ की 150वीं व 74वीं वाहिनी और कोबरा बटालियन के 206 जवान सर्च पर थे। इसी दौरान नक्सलियों द्वारा बिछाए गए विस्फोटक को बरामद कर लिया गया। और वक्त रहते उन्हें निष्क्रिय कर दिया गया। दिन-ब-दिन सुरक्षाबलों द्वारा बढ़ाई जा रही चौकसी से नक्सली संगठनों के आका तिलमिलाए हुए हैं। यही वजह है कि वो जवानों को निशाना बनाने की हर मुमकिन कोशिश करते हैं। पर, अक्सर सुरक्षाबलों की मुस्तैदी के चलते उनके नापाक इरादे नाकामयाब हो जाते हैं। ऐसे में, जरूरत है कि मुस्तैदी बनाए रखा जाए।

पढ़ें: 17 साल में लॉ की डिग्री, खुद के लिए लड़ी पहली कानूनी लड़ाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here