छत्तीसगढ़: बीजापुर में मुखबिरी का आरोप लगा नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या

छत्तीसगढ़ के नक्सल ग्रस्त बस्तर में सुरक्षाबलों और प्रशासन के नक्सल उन्मूलन अभियान की वजह से बौखलाए नक्सली (Naxals) लगातार आम लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं। 30 सितंबर की रात बीजापुर जिले के दुपेली गांव में नक्सलियों मुखबिरी का आरोप लगा एक ग्रामीण की हत्या कर दी।

Naxals
बीजापुर में नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या

जानकारी के मुताबिक, नक्सलियों ने एक ग्रामीण को उसके घर से अगवा किया और फिर उसे मौत के घाट उतार दिया। हत्या करने के बाद नक्सलियों ने ग्रामीण का शव सड़क पर फेंक दिया। इतना ही नहीं, नक्सलियों ने लोगों में दहशत फैलाने के लिए पर्चे भी फेंके हैं। इन पर्चों में पुलिस का साथ देने वालों को ऐसे ही मौत के घाट उतारने की धमकी दी गई है।

जानकारी के अनुसार, 30 सितंबर की रात नक्सलियों का दस्ता दुपेली गांव पहुंचा और वहां रहने वाले माड़वी रामलु को उसके घर से उठा लिया। नक्सलियों ने पहले तो ग्रामीण की बेरहमी से पीटाई की और इसके बाद तोयनार की ओर जाने वाली सड़क पर ले जाकर उसे गोली मार दी। रामलु की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद शव के आस-पास नक्सलियों ने धमकी भरे पर्चे फेंके। जानकाारी के अनुसार, इस घटना की जिम्मेदारी माओवादियों के नेशनल पार्क एरिया कमेटी ने ली है।

घटना की सूचना पुलिस को दे दी गई। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच मामले की जांच शुरू कर दी है। इसके साथ ही सुरक्षाबलों ने इलाके में सर्चिंग तेज कर दिया है। इससे पहले 24 सितंबर को भी राज्य के नक्सल प्रभावित कांकेर जिले के ताड़ोकी इलाके में नक्सलियों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया था। यहां नक्सलियों ने बारूदी सुरंग बिछाया हुआ था। जिसकी चपेट में एक पेट्रोल टैंकर आ गया। इसमें तीन लोग सवार थे। उन सभी की मौके पर ही मौत हो गई थी।

पढ़ें: लश्कर, जैश और हिज्ब साथ मिलकर रच रहे घाटी में खून-खराबे की साजिश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here