Budget 2020: बजट में महिलाओं के लिए क्या है खास? यहां जानें

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी की सुबह 11 बजे लोकसभा में बजट (Budget) पेश करते हुए जीएसटी को ऐतिहासिक बताया। इस दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने महिलाओं के पोषण संबंधी कार्यक्रमों से जुड़े कई महत्वपूर्ण ऐलान भी किए।

Budget 2020
फाइल फोटो।

Budget 2020: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी की सुबह 11 बजे लोकसभा में बजट (Budget) पेश करते हुए जीएसटी को ऐतिहासिक बताया। इस दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने महिलाओं के पोषण संबंधी कार्यक्रमों से जुड़े कई महत्वपूर्ण ऐलान भी किए। आइए जानते हैं आखिर क्या हैं ये ऐलान-

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की सफलता

महिलाओं से जुड़ी योजना का ऐलान करते समय वित्त मंत्री ने कहा, ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की सफलता उल्लेखनीय है, लड़कियों के स्कूल जाने का आंकड़ा लड़कों से ज्यादा है। 98 फीसदी लड़कियां नर्सरी लेवल पर स्कूल जा रही हैं। प्लस टू लेवल पर भी इसी तरह के आंकड़े हैं, लड़कियां लड़कों से किसी मामले में पीछे नहीं।’

लड़कियों के मां बनने की उम्र

वित्त मंत्री ने ऐलान किया कि अब हमारी सरकार लड़कियों के मां बनने की उम्र को बढ़ाने पर भी चर्चा कर रही है। इसके लिए एक टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा जो 6 महीने में इस मुद्दे पर रिपोर्ट तैयार करेगी।

पोषण संबंधी कार्यक्रम

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट (Budget) पेश करते हुए कहा कि ‘पोषण मां के स्वास्थ्य के साथ बच्चों के लिए भी जरूरी है। आंगनबाड़ी सेविकाएं स्मार्टफोन के जरिए पोषण की स्थिति बताती हैं। पोषण अभियान के जरिए छह लाख से ज्यादा सेविकाएं इस काम में लगी हैं। आपको बता दें कि वित्त वर्ष 2020-21 के पोषण संबंधी कार्यक्रमों के लिए 35,600 करोड़ का प्रस्ताव रखा गया है जबकि महिला विशिष्ट कार्यक्रमों को 28,600 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं।

पढ़ें: Budget 2020: जानिए इस बजट में हेल्थ सेक्टर के लिए क्या रहा खास…

Budget 2020 LIVE Updates: भारत अब दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी इकॉनमी, पढ़ें, अब तक की बड़ी बातें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here