रॉयल एयर फोर्स ने ISIS के गढ़ उत्तरी इराक में मचाया कहर, मखमूर की पहाड़ियों से आतंकियों का किया सफाया

एक अनुमान के मुताबिक अब भी करीब दस हजार आतंकवादी सीरिया और इराक में मौजूद हैं। वहीं ब्रिटेन ने कहा है कि वह वैश्विक गठबंधन के तहत 82 देशों के साथ मिलकर आईएसआईएस (ISIS) के खात्मे के लिए प्रतिबद्ध है।

ISIS

ब्रिटेन के रॉयल एयर फोर्स (RAF) ने उत्तरी इराक में आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) के गढ़ के सफाये के लिए इलाके में सुरक्षाबलों ने ज्वाइंट ऑपरेशन के तहत मिसाइलों और बमों का इस्तेमाल किया।

जम्मू कश्मीर: शोपियां में सुरक्षाबलों और आंतकियों के बीच मुठभेड़ में 3 आतंकी ढेर, 2 सुरक्षाकर्मी भी घायल

मार्च में 10 दिन चले अभियान में इराकी सुरक्षाबल के सैनिकों ने एर्बिल से दक्षिण–पश्चिम मखमूर पहाड़ी से आईएसआईएस (ISIS) का सफाया किया जबकि आरएएफ (RAF) व वैश्विक गठबंधन ने सहयोग करते हुए हवाई हमले किए। यह अभियान तब शुरू हुआ जब आईएसआईएस के आतंकियों (Terrorists) की मखमूर पहाड़ी की गुफाओं में छिपे होने की पुष्टि हुई। अभियान 22 मार्च को खत्म हुआ।

ब्रिटेन के रक्षा मंत्री बेन वालेस ने बताया कि आईएसआईएस (ISIS) के आतंकी (Terrorists) जहां भी छिपे हैं‚ इराकी और गठबंधन के सहयोगियों के साथ ब्रिटिश आम्र्ड फोर्सेज उनका समूल नाश करना जारी रखेगा। क्योंकि ब्रिटेन आईएसआईएस (ISIS) को खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है। यह अभियान इस आतंकी संगठन और उसकी जहरीली विचारधारा को इराक में फिर से पांव पसारने से रोकेगा और दुनिया भर में हमला करने की उसकी क्षमता को कमजोर करेगा।

पश्चिम एशिया में यूके एयर कंपोनेंट कमांडर एयर कमोड़ोर साइमन स्ट्रासडिन और 83 एक्पेडिशनरी एयर ग्रुप के एयर ऑफिसर कमांडर ने कहा कि रॉयल एयर फोर्स और गठबंधन सेना ने इराकी सुरक्षाबल की एक सक्षम इकाई के नेतृत्व में अभियान चलाया। उन्होंने आगे बताया कि आईएसआईएस (ISIS) के खात्मे के लिए हम लोग मिलकर काम कर रहे हैं।

आरएएफ (RAF) ने कहा कि रविवार को एक अन्य अभियान में हेलफायर मिसाइल से लैस आरएएफ रीपर विमान ने अल हसाका से 50 मील पश्चिम में उत्तरी सीरिया में आईएसआईएस (ISIS) के एक छोटे समूह की पहचान की। आसपास किसी आम नागरिक के नहीं होने की सूचना के बाद रीपर के सैनिकों ने आतंकियों (Terrorists) पर हमला किया और लक्ष्य को सफलतापूर्वक भेद दिया। इलाके में आईएसआईएस का खात्मा कर दिया गया है।

हालांकि एक अनुमान के मुताबिक अब भी करीब दस हजार आतंकवादी सीरिया और इराक में मौजूद हैं। वहीं ब्रिटेन ने कहा है कि वह वैश्विक गठबंधन के तहत 82 देशों के साथ मिलकर आईएसआईएस (ISIS) के खात्मे के लिए प्रतिबद्ध है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें