गया मुठभेड़ में शामिल जवानों को मिलेगा इनाम, 4 नक्सली कमांडरों को मार गिराया था

बिहार (Bihar) के गया जिले के डुमरिया थाना क्षेत्र के जंगल में 16 मार्च को हुई भीषण नक्सल मुठभेड़ (Naxal Encounter) के बाद औरंगाबाद और गया जिले में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा रहा है।

Naxal Encounter

मुठभेड़ (Naxal Encounter) में मारे गए नक्‍सलियों में से दो पर झारखंड सरकार ने इनाम घोषित कर रखा था। एक बिहार सरकार का भी इनामी था।

बिहार (Bihar) के गया जिले के डुमरिया थाना क्षेत्र के जंगल में 16 मार्च को हुई भीषण नक्सल मुठभेड़ (Naxal Encounter) के बाद औरंगाबाद जिले में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा रहा है। देव एवं मदनपुर थाना क्षेत्र के दक्षिणी इलाके के छकरबंदा जंगल में स्थित ठकपहरी, लंगुराही, पचरुखिया, सागरपुर के अलावा गया जिले के डुमरिया, बांकेबाजार एवं इमामगंज थाना क्षेत्र के अंतर्गत छकरबंदा जंगलों में सुरक्षाबल चप्पा-चप्पा छान रहे हैं।

एडीजी अभियान सुशील एम खोपड़े ने बताया कि मुठभेड़ (Naxal Encounter) के बाद नक्सलियों का एक दस्ता को बांकेबाजार की तरफ जंगल में भागने की सूचना पर 17 मार्च को सुरक्षाबलों की एक टीम को छापामारी अभियान में लगाया गया, पर नक्सलियों का पता नहीं लग सका। एडीजी अभियान सुशील एम खोपड़े ने बताया कि नक्सलियों पर घोषित इनाम की राशि मुठभेड़ में शामिल सुरक्षाबलों को दी जाएगी।

भारतीय सेना की ताकत में हुआ इजाफा, मिली सतह से हवा में मार करनेवाली मध्यम दूरी की मिसाइल की पहली खेप

एडीजी ने बताया कि मुठभेड़ में कुटुंबा थाना क्षेत्र का राजपुर गांव निवासी उदय पासवान एवं गया के कोठिलवां गांव का अमरेश सिंह भोक्ता मारा गया है। एडीजी अभियान ने बताया कि औरंगाबाद एवं गया जिला की तरफ से छकरबंदा के जंगल को घेकर नक्सलियों के खिलाफ सर्च अभियान चलाया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में चार नक्सली कमांडरों का मारा जाना उल्लेखनीय सफलता है। मारे गए नक्सली कमांडरों का दस्ता काफी कमजोर हुआ है। मारे गए नक्सली कमांडरों का दस्ता औरंगाबाद, गया, झारखंड के चतरा एवं पलामू के जंगल में सक्रिय था। कई नक्सली घटनाओं में चारों नक्सली कमांडरों के अलावा उनका दस्ता शामिल रहा हैं।

छत्तीसगढ़: सुकमा में नक्सलियों का उत्पात, फल बेचने जा रहे 2 युवाओं से की मारपीट, बाइक में लगाई आग

वहीं, सीआरपीएफ (CRPF) के एक वरीय अधिकारी ने भी बताया नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में शामिल सभी जवानों और अधिकारियों को गैलेंटरी अवार्ड मिलेगा। बता दें कि मुठभेड़ (Naxal Encounter) में मारे गए नक्‍सलियों में से दो पर झारखंड सरकार ने इनाम घोषित कर रखा था। एक बिहार सरकार का भी इनामी था। ऐसे में उनका मारा जाना सुरक्षाबलों के लिए बड़ी उपलब्धि है।

ये भी देखें-

वहीं, नक्‍सलियों के लिए यह कमर तोड़ने वाली घटना है। वहीं, नक्‍सली संगठन के सब जोनल कमांडर ढिबरा थाना क्षेत्र के तेंदुई गांव निवासी शिवपूजन यादव एवं अंबा थाना क्षेत्र के कमरडीह गांव निवासी सीता भुइयां पर झारखंड सरकार ने पांच-पांच लाख का इनाम घोषित कर रखा था। दोनों नक्सली झारखंड में कई नक्सली घटनाओं में शामिल रहे थे। बिहार सरकार ने शिवपूजन पर 50 हजार रुपए का इनाम घोषित किया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें