बिहार: मुंगेर जिले में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, सालों से फरार कुख्यात महिला नक्सली गिरफ्तार

जिला पुलिस और राज्य एसटीएफ के संयुक्त अभियान में ये कामयाबी मिली है। पुलिस गिरफ्त में आई ये कुख्यात महिला नक्सली कई बार पुलिस मुठभेड़ में शामिल रही है।

Naxalites

सांकेतिक तस्वीर।

बिहार के मुंगेर जिले में पुलिस के हाथ एक बड़ी सफलता लगी है। यहां जिले के लडैयाटांड इलाके में पुलिस छापेमारी में एक कुख्यात महिला नक्सली (Naxalite) को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार महिला नक्सली का नाम प्रमिला कोड़ा है और यह हथियार चलाने में माहिर है।

दिल्ली पुलिस ने ISI एजेंट को हिरासत में लिया, सुरक्षाबलों की संवेदनशील जानकारी पाकिस्तान भेजने का आरोप

एडीजी अभियान सुशील खोपड़े के अनुसार जिला पुलिस और राज्य एसटीएफ के संयुक्त अभियान में ये कामयाबी मिली है। पुलिस गिरफ्त में आई ये कुख्यात महिला नक्सली कई बार पुलिस मुठभेड़ में शामिल रही है।

बिहार के लखीसराय जिले के पीरीबाजार थाना क्षेत्र के साहेब टोला लठिया की रहने वाली नक्सली प्रमिला कोड़ा (Naxalite) पिछले कई सालों से प्रतिबंधित नक्सली संगठन से जुड़ी हुई है। ये नक्सली पूर्वी बिहार-पूर्वोत्तर झारखंड स्पेशल एरिया कमेटी (पीबीजेसैक) में अहम जिम्मेदारी संभालने वाले नक्सली कमांडर प्रवेश उर्फ सहदेव सोरेन दस्ता की सदस्य है। इस पर एक-दो नहीं बल्कि दर्जनों पुलिस मुठभेड़ में शामिल होने का आरोप है, लेकिन हर बार वह बच निकलती थी।

पुलिस को नक्सली प्रमिला (Naxalite) की तलाश कई आपराधिक मामलों में थी। अब तक उसका जो आपराधिक इतिहास सामने आया है, उसके मुताबिक कजरा, चानन, पीरी बाजार, लड़ैयाटांड और बरहट थाना में उसके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, नक्सली वारदात, आर्म्स एक्ट और यूएपी एक्ट के तहत 11 मामले दर्ज हैं। ये मामले साल 2010 से 2021 के बीच दर्ज किए गए।

पुलिस नक्सली प्रमिला (Naxalite) की गिरफ्तारी को अहम कामयाबी मान रही है। छापेमारी अभियान की संयुक्त टीम ने इस महिला को स्थानीय पुलिस के हवाले कर दिया है, जहां उससे पूछताछ में नक्सलियों से जुड़ी कई महत्वपूर्ण जानकारी मिलने की उम्मीद जताई की जा रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें