बिहार: जमुई में STF टीम को मिली बड़ी सफलता, नक्सली वारदातों में वांछित हार्डकोर नक्सली गिरफ्तार

लक्ष्मीपुर थाने की पुलिस गिरफ्तार नक्सली वीरेंद्र (Naxalite) के कारनामों की पड़ताल कर रही है। वहीं उसके अन्य साथी लालो दास को थानाध्यक्ष मृत्युंजय पंडित ने पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Naxalite

सांकेतिक तस्वीर।

बिहार के जमुई के लक्ष्मीपुर थानाक्षेत्र की पुलिस ने एक फरार नक्सली (Naxalite) को गिरफ्तार किया है। थानाध्यक्ष मृत्युंजय कुमार पंडित के नेतृत्व में एसटीएफ झाझा की टीम ने गोबरदाहा निवासी नक्सली वीरेंद्र दास को मटिया बाजार से हिरासत में लिया। पुलिस गिरफ्त में आये नक्सली वीरेंद्र दास पर झाझा किऊल रेलखंड स्थित कुंदर हाल्ट पर धनबाद पटना इंटर सिटी ट्रेन पर हमला सहित कई संगीन मामले दर्ज हैं।

शादी समारोह से घर लौट रहे नक्सली (Naxalite) को पुलिस ने दबोचा, झारखंड-बिहार बॉर्डर पर हुई कार्रवाई

गौरतलब है कि 2017 में तत्कालीन लक्ष्मीपुर थानाध्यक्ष दुबे देव गुरु को सूचना मिली थी कि क्षेत्र के तेतरिया धमनकुंडा जंगल मे नक्सली का जमावड़ा हो रहा है। सूचना पर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के निर्देशानुसार सीआरपीएफ 215 बटालियन और थाने के पुलिस बल की संयुक्त टीम द्वारा धमनकुंडा जंगल में सघन जांच शुरू किया गया। सर्च ऑपरेशन टीम जैसे ही उक्त जंगल के पास पहुंचा तो एक युवक हाथ में स्टील का डिब्बा लेकर भागता दिखा। पुलिस ने उसे पकड़ा तो उसने अपना नाम सुनील दास घर मोहनपुर बताया। साथ ही हाथ में लिए स्टील के डिब्बा को केन बम बताया। पूछताछ में सुनील ने पुलिस को बताया था कि केन बम को रास्ते में लगाकर पुलिस दल को नुकसान पहुंचाने की योजना थी। वहीं नक्सली सुनील (Naxalite) की तलाशी के दौरान कई और विस्फोटक सामग्री बरामद हुये थे।

पुलिस गिरफ्त में सुनील ने अपने साथियों के साथ कई घटनाओं में शामिल होने की बात स्वीकार की थी, जिसमें मटिया से गिरफ्तार साथी वीरेंद्र दास का भी नाम शामिल था। पुलिसिया पुछताछ में सुनील ने नक्सली वीरेंद्र (Naxalite) द्वारा ट्रेन पर हमला, आनंदपुर में मोबाइल के टावर में आग लगाने के साथ बरहट में जेसीबी जलाने जैसी कई अन्य घटनाओं में शामिल होने की बात स्वीकारी थी। तभी से पुलिस को वीरेंद्र दास की तलाश थी, लेकिन वो बार-बार चकमा देकर फरार हो जाता था, लेकिन इस बार भागने की उसकी सारी कोशिशें नाकाम रहीं।

लक्ष्मीपुर थाने की पुलिस गिरफ्तार नक्सली वीरेंद्र (Naxalite) के कारनामों की पड़ताल कर रही है। वहीं उसके अन्य साथी लालो दास को थानाध्यक्ष मृत्युंजय पंडित ने पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं एक सप्ताह पहले फरार नक्सली पिंटू यादव को भी कोहबरवा मोड़ के समीप से पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें