बिहार: लखीसराय से नक्सली गिरफ्तार, कांवड़ियों पर हमले की कर रहा था प्लानिंग

श्रावणी मेला शुरू होने से पहले ही बिहार और झारखंड पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया था। नक्सल प्रभावित जमुई जिले के बटिया और मुंगेर जिले के गंगटा जंगल के रास्ते काफी संख्या में बाहरी कांवड़ियों का सुल्तानगंज में आगमन होता है।

naxal, bihar, Lakhisarai, big success of police, Naxalite Manoj Koda, arrested, combing operation, recovered naxalite goods, Naxalite in Savan, preparing for big crime in Savan by Naxalite, sirf sach, sirfsach.in

सावन में बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में नक्सली बिहार के लखीसराय में गिरफ्तार

बिहार के लखीसराय में नक्सलियों के खिलाफ पुलिस को एक कामयाबी हाथ लगी है। जिले में पुलिस ने 18 जुलाई को कॉम्बिंग ऑपरेशन चलाया गया। पुलिस की कार्रवाई में नक्सली मनोज कोड़ा गिरफ्तार हुआ है। एएसपी अभियान पवन उपाध्याय के अनुसार, पुलिस ने सर्च ऑपरेशन में नक्सलियों के दैनिक उपयोग में लाये जाने वाले सामानों को बरामद किया। जिसमें चटाई 11 पीस, प्लास्टिक रस्सी 4 बंडल, झोला 50 पीस, कुछ बर्तन, मच्छरदानी 18 पीस आदि सामान बरामद किए गए हैं। ये सभी सामान पीरी बाजार थाना क्षेत्र के केवरिया कोल से बरामद किए गए हैं। सावन में नक्सली किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में थे।

बरामद हुए सामानों में कांवड़ियों द्वारा पहने जाने वाले केसरिया कपड़े का थान भी है। जिससे यह बात साफ हो जाती है कि नक्सली कांवड़ियों के वेश में हमला करने की प्लानिंग कर रहे थे। गौरतलब है कि श्रावणी मेला शुरू होने से पहले ही बिहार और झारखंड पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया था। नक्सल प्रभावित जमुई जिले के बटिया और मुंगेर जिले के गंगटा जंगल के रास्ते काफी संख्या में बाहरी कांवड़ियों का सुल्तानगंज में आगमन होता है। अलर्ट के बाद अब यहां से बाबा मंदिर देवघर तक के रुट पर दोनों राज्यों की पुलिस पैनी नजर बनाए रखेगी। इस अलर्ट पर अब दोनों राज्यों की पुलिस अलग-अलग तरह से काम कर रही है।

नक्सलियों की साजिश नाकाम करने के लिए नक्सल प्रभावित इलाके और कांवड़िया पथ पर जीप से गश्ती कराने में परहेज करने को कहा गया है। ‘लाल आंतक’ की गतिविधियों पर पैनी नजर रखने के लिए बाइक से पेट्रोलिंग बढ़ाने का निर्देश भी प्रशासन की तरफ से जारी किया गया है। गश्ती के दौरान पुलिस को अलर्ट रहने और बम निरोधी दस्ते को तैनात कराने को कहा गया है, ताकि सूचना पर तुरंत कार्रवाई की जा सके।

यह भी पढ़ें: बीएसएफ का ये जवान बना IAS, बॉर्डर पर पोस्टिंग के दौरान की तैयारी

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App