Bihar: जमुई से हार्डकोर नक्सली गिरफ्तार, लंबे समय से चल रहा था फरार

बिहार (Bihar) के जमुई जिले से पुलिस ने एक हार्डकोर नक्सली (Hardcore Naxali) को गिरफ्तार कर लिया। मंटु खैरा गैंग का फरार नक्सली (Naxali) रंजय सिंह उर्फ अजय सिंह 7 जुलाई को पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

Naxali

जमुई से गिरफ्तार नक्सली।

बिहार (Bihar) के जमुई जिले से पुलिस ने एक हार्डकोर नक्सली (Hardcore Naxali) को गिरफ्तार कर लिया। मंटु खैरा गैंग का फरार नक्सली (Naxali) रंजय सिंह उर्फ अजय सिंह 7 जुलाई को पुलिस के हत्थे चढ़ गया। जिले की सूइया व सिमुलतला पुलिस और एसएसबी की संयुक्त टीम ने उसे कनौदी गांव से गिरफ्तार कर लिया।

यह नक्सली पुलिस मुठभेड़ में मारे गए नक्सली एरिया कमांडर (Naxali Area Commander) मंटु खैरा के दस्ते का सक्रिय सदस्य बताया जा रहा है। गिरफ्तार नक्सली को सूइया थाना लाने के बाद शंभुगंज थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया। जानकारी के मुताबिक, पुलिस को इस नक्सली (Naxali) के बारे में खुफिया सूचना मिली थी।

Jammu-Kashmir: आतंकियों ने BJP नेता वसीम बारी की गोली मारकर हत्या की, हमले में पिता और भाई की भी मौत

इस सूचना के आधार पर बांका के एएसपी अभियान पीके उपाध्याय के निर्देश पर सूइया और सिमुलतला की पुलिस व एसएसबी की टीम गठित की गई। टीम ने तत्काल कार्रवाई कर जिले के सिमुलतला थाना क्षेत्र के कनौदी गांव में छापेमारी कर फरार नक्सली(Naxali) रंजय सिंह उर्फ अजय सिंह को उसके घर से दबोच लिया।

बता दें कि साल 2014 में शंभूगंज थाना क्षेत्र में नक्सली बंदी के दौरान भलुआ गांव में पवनहंस नामक बस जलाने के आरोप में नक्सली एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी। उस घटना में दर्जनों लोगों पर मामला दर्ज कराया गया था। रंजय सिंह भी इस मामले में अभियुक्त था। उसके विरुद्ध शंभुगंज थाने में कांड संख्या 97/14 में नक्सली एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज है।

इस केस में अब तक कई नक्सलियों (Naxals) ने आत्मसमर्पण कर दिया है। गौरतलब है कि इसी कांड में नामजद और फरार नक्सली (Naxali) नेपाली यादव ने बीते 2 जुलाई को कटोरिया थाना परिसर में एडिशनल एसपी सह एसडीपीओ मदन कुमार आनंद और एसएसबी इंस्पेक्टर एसके शर्मा की मौजूदगी में सरेंडर किया था।

यह भी पढ़ें