बिहार: जमुई में नक्सलियों का उपद्रव, मजदूरों के साथ मारपीट कर जेसीबी में लगाई आग

बिहार के जमुई जिले के नक्सल प्रभावित चकाई में भाकपा माओवादी के नक्सलियों (Naxals) ने सड़क निर्माण कंपनी में काम कर रहे वाहनों में आग लगा दी।

Naxals

जमुई में नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे जेसीबी में आग लगा दी।

बिहार के जमुई जिले के नक्सल प्रभावित चकाई में भाकपा माओवादी के नक्सलियों (Naxals) ने सड़क निर्माण में काम कर रहे वाहनों में आग लगा दी। जानकारी के मुताबिक,  7 जून की देर रात नक्सली संगठन भाकपा माओवादी (Maoist) के लोगों ने जमुई जिले के चकाई थाना अंतर्गत बोंगी में सड़क निर्माण कंपनी की तीन जेसीबी (JCB) में आग लगा दी। घटना को अंजाम देने आए नक्सलियों (Naxalites) ने इस दौरान निर्माण कंपनी के मजदूरों के साथ मारपीट भी की।

नक्सलियों (Naxals) ) की इस करतूत से लाखों रूपये का नुकसान हुआ है। बताया जा रहा है कि नक्सलियों ने लेवी नहीं मिलने के कारण इस वारदात को अंजाम दिया है। घटना को अंजाम देने आए लगभग एक दर्जन नक्सली हथियारों से लैस थे। बता दें कि जमुई जिले में ग्रामीण कार्य विभाग द्वारा पोझा बरमोरिया सड़क का निर्माण एक निर्माण कंपनी करवा रही है। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर छानबीन शुरू कर दी।

पुण्यतिथि विशेष: हिंदी सिनेमा के उम्दा फिल्मकारों में से एक थे राज खोसला, गायक बनने की चाह ने बना दिया निर्देशक

मौके पर मौजूद आपरेटर और अन्य कर्मचारियों के अनुसार, वे लोग छत पर सोये थे। इसी दौरान रात करीब 12 बजे के लगभग छह की संख्या में नक्सली छत पर चढ़ गए और उनलोगों को जगाकर मारपीट करने लगे। उनलोगों के पास से चार मोबाइल एवं पर्स छीन लिया। जिसमें करीब दस हजार रुपये नगद, आधार कार्ड, वोटर कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि थे।

फिर उनलोगों को नीचे लाकर जेसीबी से तेल निकालकर जेसीबी पर छिड़कने के लिए कहा। ऐसा नहीं करने पर उनलोगों ने फिर पिटाई की। इसके बाद नक्सलियों ने जेसीबी की चाबी लेकर खुद ही टंकी से अपने साथ लाए डब्बे में डीजल निकालकर उसे छिड़कर आग लगा दी। आग नहीं पकड़ते देख नक्सलियों ने उनलोगों के छत पर रहे कंबल को उठा लाया और उसमें तेल छिड़कर जेसीबी में आग के हवाले कर दिया।

Coronavirus: भारत में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 2 लाख 65 हजार के पार, 7,466 लोगों की मौत

आग लगाने के बाद वे लोग आग नहीं बुझाने की धमकी देते हुए चले गए। नक्सलियों के जाने के बाद कर्मचारियों ने आकर जेसीबी के आग को किसी तरह बुझाया। लेकिन, आग से जेसीबी का केबिन पूरी तरह जलकर बर्बाद हो गया।

बताया जा रहा है कि सड़क निर्माण कंपनी से 3 महीने पहले नक्सलियों (Naxals) ने लेवी की मांग की थी। जमुई जिले के झाझा ग्रामीण कार्य विभाग के द्वारा इस सड़क का निर्माण राजीव कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड कर रहा है। इस मामले में झाझा एसडीपीओ भास्कर रंजन के अनुसार, घटना के जानकारी के बाद मौके पर जाकर पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है। उस इलाके में नक्सली पिन्टू राणा का दस्ता सक्रिय है। घटना को अंजाम देने के बाद फरार नक्सलियों की गिरफ्तारी के लिए सर्च अभियान शुरू कर दिया है।

हालांकि, जमुई के एएसपी अभियान सुधांशु कुमार ने कहा है कि यह घटना असामाजिक तत्वों की करतूत भी हो सकती है। एएसपी अभियान के मुताबिक, “नक्सली के नाम पर स्थानीय असामाजिक तत्वों की ओर से घटना को अंजाम देने की बात प्रतीत हो रही है। घटना को लेकर नक्सली कनेक्शन सामने नहीं आया। मौके पर न तो कोई पर्चा पोस्टर छोड़ा गया और न ही लेवी की मांग किये जाने की बात ही सामने आई है। मामले की सभी बिन्दुओं की गहनता से जांच की जा रही है।”