Bihar: जमुई में सुरक्षाबलों को मिली कामयाबी, कई सालों से फरार नक्सली गिरफ्तार

बिहार (Bihar) के जमुई जिले में नक्सलियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। जिले के लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र के कई संगीन मामलों के आरोपी नक्सली (Naxalite) को सुरक्षाबलों ने दबोच लिया है।

Naxalite

सांकेतिक तस्वीर।

जमुई जिले के लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र के कई संगीन मामलों के आरोपी नक्सली (Naxalite) को सुरक्षाबलों ने दबोच लिया है। नक्सली का नाम अरविंद मुर्मू है।

बिहार (Bihar) के जमुई जिले में नक्सलियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। जिले के लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र के कई संगीन मामलों के आरोपी नक्सली (Naxalite) को सुरक्षाबलों ने दबोच लिया है। नक्सली का नाम अरविंद मुर्मू है। वह कई सालों से फरार चल रहा था। गिरफ्तार नक्सली खिरिया टांड़ थाना बरहट का रहने वाला है। उसकी गिरफ्तारी सीआरपीएफ (CRPF) पुलिस बल की संयुक्त कार्रवाई में की गई।

इस नक्सली (Naxalite) पर किउल झाझा रेलखण्ड स्थित कुंदर हाल्ट पर धनबाद पटना इंटरसिटी पर हमला करने, बरहट में जेसीबी जलाने, लक्ष्मीपुर के आनंदपुर गांव में मोबाइल टावर जलाने जैसे संगीन आपराधिक मामलों में शामिल होने का आरोप है।

Coronavirus: देश में बीते 24 घंटे में आए 48,698 नए केस, दिल्ली में 96 दिन बाद सबसे कम मौतें

जानकारी के अनुसार, साल 2017 में तत्कालीन थानाध्यक्ष दुबे देव गुरु को जिले के वरीय पदाधिकारी से सूचना मिली थी कि तेतरिया धमनकुंडा जंगल में कुछ नक्सली विस्फोटक सामग्री के साथ जमा कर रहे हैं।

सूचना पर थानाध्यक्ष ने सैप, बीएमपी और सीआरपीएफ जवानों के साथ जंगल में सर्च अभियान चलाया। सर्च अभियान दल जैसे ही धमनकुंडा जंगल के समीप पहुंचा उन्हें एक युवक हाथ में स्टील का एक डब्बा लेकर भागते दिखा, जिसे जवानों ने खदेड़ कर पकड़ लिया।

ये भी देखें-

लेकिन उसके अन्य साथी घने जंगल का फायदा उठाते हुए भागने में सफल रहे। पकड़े गए नक्सली ने अपना नाम सुनील दास बताया था। साथ ही अपने फरार साथियों लालो दास, वीरेंद्र दास गोबरदाहा और अरविंद मुर्मू उर्फ राकेश मुर्मू का नाम बताया था। इस घटना के बाद से ही नक्सली अरविंद मुर्मू फारार था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें