बिहार: पूर्व एमएलसी का घर उड़ाने वाला नक्सली गया से गिरफ्तार

बिहार के गया जिला के डुमरिया थाना की पुलिस ने 25 सितंबर को एक नक्सली को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार नक्सली डुमरिया प्रखंड के छकरबंधा पंचायत के कोकणा का रहने वाला दिनेश सिंह भोक्ता है। गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने उसके ठिकाने पर घेराबंदी की और उसे गिरफ्तार कर लिया।

Gaya
गिरफ्तार नक्सली एमएलसी के मकान को ब्लास्ट कर उड़ाने की वारदात में शामिल था

इस साल मार्च महीने के अंतिम सप्ताह में प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के हथियारबंद दस्ते ने पूर्व एमएलसी अनुज कुमार सिंह के डुमरिया थाना अंतर्गत स्थित बोधिबीघा में रहे मकान को डायनामाइट का विस्फोट कर उड़ा दिया था। पूर्व एमएलसी के मकान को ध्वस्त करने में शामिल रहे कई नक्सलियों की गिरफ्तारी पहले भी हो चुकी है। थानाध्यक्ष विधा प्रसाद के मुताबिक, एक नक्सली दिनेश सिंह भोक्ता को गिरफ्तार किया गया है। यह गिरफ्तार नक्सली भी अनुज सिंह के मकान को ब्लास्ट कर उड़ाने की वारदात में शामिल था।

पूछताछ के बाद इसे जेल भेज दिया गया। इससे पहले, बिहार के सासाराम जिले में सीआरपीएफ (CRPF) ने नक्सल विरोधी अभियान के दौरान की गई छापेमारी में दो हार्डकोर नक्‍सलियों को गिरफ्तार किया। छोपमारी नौहट्टा थाना क्षेत्र के सलमा जंगल में हुई। दोनों गिरफ्तार नक्‍सलियों से पूछताछ की जा रही है। सीआरपीएफ को उम्‍मीद है कि पूछताछ में कई अहम सुराग मिल सकते हैं। दोनों नक्सली अजय राजभर के साथ तृतीय प्रस्तुति कमेटी नामक नक्सली संगठन के सक्रिय सदस्य हैं।

जानकारी के अनुसार, सीआरपीएफ को नौहट्टा थाना क्षेत्र स्थित कैमूर पहाड़ी पर स्थित सलमा जंगल में नक्‍सलियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी। इसके बाद जवानों ने जंगल को घेर लिया। छापेमारी में दो हार्डकोर नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया। दोनों नक्सली टीपीसी (तृतीय प्रस्तुति कमेटी) के बताए जाते हैं। सीआरपीएफ 47 बटालियन के सहायक समादेष्टा सुभाष चंद्र झा के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए दोनों नक्सली चार सालों से फरार थे। बंदा गांव में पुलिस के साथ मुठभेड़ समेत दो मामलों में इनपर केस दर्ज है। दोनों गिरफ्तार नक्‍सलियों से पूछताछ की जा रही है।

पढ़ें: बीजापुर में कुख्यात महिला नक्सली पुलिस के हत्थे चढ़ी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here