बिहार: गया से पूर्व एमएलसी का घर उड़ाने वाला नक्सली धराया

बिहार के गया जिले से पुलिस, सीआरपीएफ 153वीं बटालियन, कोबरा 205 के जवानों ने 6 दिसंबर की सुबह एक नक्सली (Naxal) को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार नक्सली का नाम जनेश्वर यादव है। वह काचर पंचायत अंतर्गत खरदाग गांव का रहने वाला है।

Naxal
सांकेतिक तस्वीर।

पुलिस के अनुसार, गुप्त सूचना मिली थी कि नक्सली (Naxal) जनेश्वर यादव घर पर है। इस सूचना के आधार पर पुलिस ने उसके घर पर छापेमारी की। पुलिस को देख कर वह भागने की कोशिश करने लगा। पर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया गया। जनेश्वर यादव पर 7/19 कांड संख्या मामला दर्ज है। थानाध्यक्ष विद्या प्रसाद यादव के मुताबिक, नक्सली (Naxal) जनेश्वर यादव पर पूर्व एमएलसी अनुज कुमार सिंह का घर विस्फोट कर उड़ाने का आरोप है। यहां बता दें कि एक हथियारबंद नक्सलियों के दस्ते ने बीते 27 मार्च को पूर्व एमएलसी अनुज कुमार सिंह के घर को विस्फोट कर उड़ा दिया था।

नक्सलियों नक्सली (Naxal) ने भारतीय जनता पार्टी के नेता और पूर्व विधान पार्षद के घर को डायनामाइट से उड़ा दिया था। 27 मार्च की रात प्रतिबंधित संगठन भाकपा माओवादी के सदस्यों ने भाजपा नेता और पूर्व एमएलसी अनुज कुमार सिंह के पैतृक आवास को डायनामाइट लगाकर उड़ा दिया था। भाजपा नेता अनुज कुमार सिंह काफी समय से माओवादियों के निशाने पर थे। घटना के वक्त उनका परिवार घर पर नहीं था। वे गया शहर में अपने दूसरे मकान में रहते हैं। वे कभी-कभी अपने पैतृक मकान में आते हैं। घटना के वक्त घर की चाबी उनके चचेरे भाई अजय सिंह के पास थी।

रात करीब 12 बजे नक्सलियों ने अजय सिंह के यहां धावा बोलकर उन्हें अपने कब्जे में ले लिया। उन्होंने अजय सिंह से अनुज कुमार सिंह के घर की चाबी ले ली और उनके घर में डायनामाइट लगाकर विस्फोट कर दिया। माओवादियों ने लगभग आधे घंटे तक अजय सिंह को अपने कब्जे में रखा। उनके सामने ही उन्होंने घर में डायनामाइट लगाया और देखते-देखते उसे ब्लास्ट कर दिया। विस्फोट इतना भयानक था कि आस-पास का इलाका दहल गया। मकान मलबे के ढेर में तब्दील हो गया।

पढ़ें: दूसरे चरण के चुनाव से ठीक पहले नक्सलियों ने मचाया आतंक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here