नक्सली संगठन भाकपा माओवादी को बड़ा झटका, 25 लाख का इनामी जोनल कमांडर गिरफ्तार

जांच एजेंसियों ने अभी इस खबर की पुष्टि नहीं की। ये खबर सूत्रों के हवाले से सामने आई है। इस नक्सली (Pradyuman Sharma) पर 25 लाख रुपए का इनाम था।

PLFI

सांकेतिक तस्वीर।

प्रद्युम्न शर्मा (Pradyuman Sharma) के साथ ही एक और नक्सली को गिरफ्तार किया गया है। उसका नाम आजाद है। इन दोनों नक्सलियों को गाजियाबाद से झारखंड ले जाया जा रहा है।

रांची: झारखंड में नक्सलियों के खिलाफ अभियान जारी है। इस बीच खबर मिली है कि भाकपा माओवादी के हार्डकोर नक्सली प्रद्युम्न शर्मा (Pradyuman Sharma) को यूपी के गाजियाबाद से गिरफ्तार किया गया है।

हालांकि जांच एजेंसियों ने अभी इस खबर की पुष्टि नहीं की। ये खबर सूत्रों के हवाले से सामने आई है। इस नक्सली पर 25 लाख रुपए का इनाम था। खबर ये भी है कि नक्सली को गुप्त जगह पर रखकर पूछताछ की जा रही है। वह बिहार के गया के पूर्वी क्षेत्र का जोनल कमांडर है।

प्रद्युम्न शर्मा (Pradyuman Sharma) के साथ ही एक और नक्सली को गिरफ्तार किया गया है। उसका नाम आजाद है। इन दोनों नक्सलियों को गाजियाबाद से झारखंड ले जाया जा रहा है।

हार्डकोर नक्सली प्रद्युम्न शर्मा को झारखंड और बिहार पुलिस तलाश रही थी। उसकी गिरफ्तारी से नक्सली संगठन भाकपा माओवादी को करारा झटका लगा है।

मिली जानकारी के मुताबिक, वह गाजियाबाद में हुलिया बदलकर रह रहा था। सुरक्षाबलों ने ज्वाइंट रूप से रणनीति बनाकर उसे गिरफ्तार किया।

गलवान घाटी में चीनी सैनिकों को मार भगाने वाले 20 जवानों को केंद्र सरकार ने दिया वीरता पुरस्कार

वह 2003 से पहले से नक्सलियों के सामान्य संगठन से जुड़ा था, लेकिन जोनल कमांडर बनने के बाद उसने नक्सली वारदातों को अंजाम देना शुरू कर दिया।

प्रद्युम्न शर्मा की एक आंख खराब है और वह एक हाथ से दिव्यांग है। उसका दूसरा हाथ भी सही से काम नहीं करता है। लेकिन वह अपनी इस बात को छिपाने के लिए लंबी बांह का कुर्ता पहनता था।

उसके ऊपर बिहार और झारखंड के विभिन्न थानों में कई मामले दर्ज हैं। उसने लेवी से करोड़ों रुपए कमाए हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें