बस्तर: नक्सल प्रभावित मिनपा FOB है ‘बेस्ट फॉरवर्ड ऑपरेटिंग बेस’, CRPF के डीजी डॉ. एपी महेश्वरी ने सौंपा प्रशस्ति पत्र

CRPF के डीजी डॉ. एपी महेश्वरी ने छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में सुकमा जिले के नक्सल प्रभावित मिनपा इलाके में नव-संचालित बेस को ‘सर्वश्रेष्ठ अग्रिम अभियान बेस’ के लिए प्रशस्ति पत्र सौंपा।

Minapa FOB

डॉ. एपी माहेश्वरी ने मिनपा एफओबी (Minapa FOB) की प्रशंसा करते हुए इसे बल के संकल्प का प्रतीक बताया। यह फॉरवर्ड ऑपरेटिंग बेस प्रतिकूल परिस्थितियों और अनेक हमलों के बाद भी रिकॉर्ड समय में स्थापित किया गया।

CRPF के डीजी डॉ. एपी महेश्वरी ने छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में सुकमा जिले के नक्सल प्रभावित मिनपा इलाके में नव-संचालित बेस (Minapa FOB) को ‘सर्वश्रेष्ठ अग्रिम अभियान बेस’ के लिए प्रशस्ति पत्र सौंपा। बता दें कि बस्तर (Bastar) का मिनपा इलाका नक्सलियों का गढ़ माना जाता था। आईईडी ब्लास्ट और जवानों पर घात लगाकर हमला, करना वहां आम बात थी।

पिछले साल डीआरजी (DRG) के 17 जवानों ने इसी इलाके में सर्वोच्च बलिदान दिया था। नक्सिलयों के इस हमले के बाद सीआरपीएफ (CRPF) योद्धाओं ने नक्सलियों को न केवल कड़ी चुनौती दी, बल्कि उन्हें इस इलाके से दूर खदेड़ दिया। सीआरपीएफ ने सफलतापूर्वक मिनपा में फॉरवर्ड ऑपरेटिंग बेस (Minapa FOB) तैयार कर दिया।

वीरता पदक से नवाजे गए CRPF के 127 जवान, डीजी डॉ. एपी महेश्वरी ने शहीदों के परिजनों को किया सम्मानित

19 फरवरी को दिल्ली में हुए एक कार्यक्रम के दौरान डीजी डॉ. एपी माहेश्वरी ने इस एफओबी को ‘बेस्ट फॉरवर्ड ऑपरेटिंग बेस’ घोषित करते हुए प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। इस कार्यक्रम में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के उन 127 बहादुर जवानों को वीरता पुरस्कारों से नवाजा गया, जिन्होंने आतंकवाद और नक्सलवाद से लड़ते हुए अदम्य साहस का परिचय दिया है।

बता दें कि एफओबी (FOB) एक त्रिकोणीय रणनीति का एक हिस्सा है, जिसमें निरंतर अभियानों द्वारा दुश्मन के गढ़ों को ध्वस्त करना, एफओबी की मदद से नियत समय में ऑपरेशन कर परिचालनिक लाभ प्राप्त करना और संचालन के दौरान वरिष्ठ अधिकारियों के नेतृत्व में मोबाइल कमांड पोस्ट का उपयोग कर वास्तविक समय में ऑपरेशंस को नियंत्रित व प्रबंधित करना शामिल है।

ये भी देखें-

इस मौके पर डॉ. एपी माहेश्वरी ने मिनपा एफओबी (Minapa FOB) की प्रशंसा करते हुए इसे बल के संकल्प का प्रतीक बताया। यह फॉरवर्ड ऑपरेटिंग बेस प्रतिकूल परिस्थितियों और अनेक हमलों के बाद भी रिकॉर्ड समय में स्थापित किया गया। उन्होंने कहा कि यह एफओबी दुश्मन के दिल में खंजर की तरह काम करेगा और उसके अपराजेय होने के भ्रम को तोड़ेगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App