जारी है सुरक्षाबलों का एंटी नक्सल ऑपरेशन, असम में एरिया कमांडर सहित सात नक्सली गिरफ्तार

पुलिस को लोगों की मदद करने के साथ-साथ नक्सलियों (Naxals) से भी लोहा लेना पड़ रहा है, क्योंकि इस बुरे वक्त में भी नक्सली (Naxalites) अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे। हालांकि जवान पूरी सतर्कता बरत रहे हैं और उन्हें कोई मौका नहीं दे रहे।

TSPC

TSPC का जोनल कमांडर गिरफ्तार। (सांकेतिक तस्वीर)

कोरोना वायरस (Corona Virus) से फैली महामारी के चलते देशभर में लॉकडाउन के बीच पुलिस और सुरक्षाबलों का नक्सलियों के खिलाफ अभियान लगातार चल रहा है। इस मुश्किल वक्त में पुलिस प्रशासन को दोहरे मोर्चे पर काम करना पड़ रहा है। पुलिस को लोगों की मदद करने के साथ-साथ नक्सलियों (Naxals) से भी लोहा लेना पड़ रहा है, क्योंकि इस बुरे वक्त में भी नक्सली (Naxalites) अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे। हालांकि जवान पूरी सतर्कता बरत रहे हैं और उन्हें कोई मौका नहीं दे रहे।

इसी क्रम में असम में पुलिस ने कामतापुर लिबरेशन ऑर्गनाइजेशन (केएलओ) के एरिया कमांडर सहित सात नक्सलियों (Naxalites) को कोकराझाड़ जिले के चक्रशिला संरक्षित वनक्षेत्र से गिरफ्तार किया है। रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने 8 मई को यह जानकारी दी। प्रवक्ता ते मुताबिक, खुफिया सूचना के आधार पर असम पुलिस (Assam Police) और सेना (Army) की टीम गठित की गई थी।

सालों पहले संगठन छोड़ जी रहा था खुशहाल जिंदगी, जन अदालत लगाकर नक्सलियों ने मार डाला

इस टीम ने केएलओ में नक्सलियों (Naxalites) की भर्ती करने वाले माड्यूल का पर्दाफाश किया और साथ ही सात नक्सलियों को गिरफ्तार कर लिया। इसस पहले, एंटी नक्सल ऑपरेशन में छत्तीसगढ़ पुलिस (Chhattisgarh Police) को बड़ी कामयाबी हाथ लगी। दंतेवाड़ा पुलिस ने 17 जवानों की हत्या में शामिल खूंखार नक्सली नंदा मंडावी को गिरफ्तार कर लिया।

बता दें कि छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने नंदा मंडावी पर 1 लाख का इनाम घोषित कर रखा था। डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (DRG) के जवानों और किरंदुल पुलिस ने संयुक्त अभियान में इनामी नक्सली कमांडर (Naxali Commander) को गिरफ्तार किया। किरंदुल पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि नक्सली कमांडर नंदा मंडावी गुमियापाल के जंगलों में छिपा हुआ है।

किरंदुल पुलिस ने डीआरजी के साथ संयुक्त अभियान के तहत जंगलों से घेराबंदी कर नक्सली (Naxali) नंदा मंडावी को गिरफ्तार कर लिया। नंदा मंडावी कई नक्सली वारदातों (Naxal Attack) में शामिल रहा है।

यह भी पढ़ें