Army Recruitment 2021: यूपी की इन जगहों पर होगी भर्ती रैली, लाना होगा 48 घंटे पहले का कोरोना नेगेटिव सर्टिफिकेट

यूपी के आगरा-मथुरा हाईवे पर आनंद इंजीनियरिंग कॉलेज में 15 फरवरी से 8 मार्च तक भारतीय सेना (Army) के लिए जीडी सैनिक, ट्रेडमैन, क्लर्क/स्टोर कीपर एवं टेक्निकल पदों पर भर्ती प्रक्रिया होगी।

Army Recruitment Rally

File Photo

15 फरवरी से शुरू हो रही सेना भर्ती रैली (Army Recruitment Rally) के लिए सेना भर्ती दफ्तर ने फ्रेश एडमिट कार्ड वेबसाइट पर अपलोड कर दिए हैं।

यूपी के आगरा-मथुरा हाईवे पर आनंद इंजीनियरिंग कॉलेज में 15 फरवरी से 8 मार्च तक भारतीय सेना (Army) के लिए जीडी सैनिक, ट्रेडमैन, क्लर्क/स्टोर कीपर एवं टेक्निकल पदों पर भर्ती प्रक्रिया होगी। आगरा स्थित सेना भर्ती दफ्तर के कर्नल सिद्धार्थ बसु ने बताया कि रैली की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। रैली में आगरा/अलीगढ़ मंडल के छह जनपदों के एक लाख से अधिक युवा प्रतिभाग करेंगे। रैली का शेड्यूल ऐसे रखा गया है कि प्रत्येक जनपद की एक तहसील के युवा एक दिन दौड़ लगाएंगे। कई तहसीलों में युवाओं की अधिक संख्या को देखते हुए दो दिन दौड़ होगी।

रैली (Army Recruitment Rally) में आगरा शहर, किरावली, फतेहाबाद, बाह और खेरागढ़, मथुरा की मांट, गोवर्धन, छाता और मथुरा शहर, अलीगढ़ की इगलास, कोल, खैर, गभाना और अतरौली, फिरोजाबाद की टूंडला, जसराना, शिकोहाबाद और फिरोजाबाद शहर, हाथरस की सिकंदराराऊ, सासनी, सादाबाद और हाथरस शहर के साथ कासगंज की पटियाली, सहावर और कासगंज शहर के युवा अलग-अलग तारीखों में भर्ती में शामिल होंगे।

Chhattisgarh: पक्षी महोत्सव में बेमेतरा पहुंचे सीएम भूपेश बघेल, 156 करोड़ के विकास कार्यों की घोषणा की

15 फरवरी से शुरू हो रही सेना भर्ती रैली (Army Recruitment Rally) के लिए सेना भर्ती दफ्तर ने फ्रेश एडमिट कार्ड वेबसाइट पर अपलोड कर दिए हैं। कोरोना को देखते हुए पहली बार अभ्यर्थियों को 48 घंटे पहले जारी नेगेटिव कोरोना वायरस सर्टिफिकेट साथ लाना होगा। इतना ही नहीं अभ्यर्थी को हैंड सेनेटाइजर, ग्लव्स और बिना मास्क के भर्ती रैली में शामिल नहीं किया जाएगा। दौड़ के दौरान मास्क अनिवार्य नहीं होगा।

जानकारी के मुताबिक, 15 फरवरी को सबसे पहले कासगंज की पटियाली तहसील के युवाओं को मौका मिलेगा। दौड़ में शामिल होने के लिए 14 फरवरी की रात 12 बजे से भर्ती की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। सबसे पहले निर्धारित लंबाई और सीना को मापा जाएगा। इसके बाद वेबसाइट से डाउनलोड एडमिट कार्ड का बार कोड स्कैन होगा।

झारखंड: लातेहार में नक्सलियों के खिलाफ बड़ी सफलता, 4 पुलिसकर्मियों की हत्या का आरोपी नक्सली गिरफ्तार

साथ ही अभ्यर्थियों के मूल शैक्षिक प्रमाण पत्र और अन्य जरूरी कागजातों का वेरिफिकेशन होगा। अभ्यर्थी फिंगर प्रिंट भी वहीं देंगे। वहां से दौड़ के लिए टोकन मिलेगा। इसके बाद सूरज निकलते ही दौड़ शुरू हो जाएगी। युवाओं को अलग-अलग टुकड़ियों में दौड़ाया जाएगा। निर्धारित वक्त में दौड़ पूरी करने वालों को आगे मेडिकल सहित अन्य प्रक्रियाओं से गुजरना होगा।

इसके साथ ही 8 मार्च को युवाओं की भर्ती रैली की समाप्ति के बाद एक दिन धर्मगुरुओं की भर्ती रैली भी होगी। कर्नल सिद्धार्थ बसु ने बताया कि सेना में पुजारी, मौलवी, ग्रंथी आदि धर्मगुरुओं की भर्ती का भी प्रावधान है। इसके लिए हम एक दिन की पूरी मानक प्रक्रिया को अपनाकर सेना में धर्मगुरु बनने के लिए आवेदन करने वाले युवाओं की परीक्षा भी लेंगे।

ये भी देखें-

भर्ती रैली (Army Recruitment Rally) में अभ्यर्थियों को दलालों के चंगुल से मुक्त रखने के लिए सेना और पुलिस की इंटेलीजेंस यूनिट अभी से सक्रिय हो गई हैं। कर्नल सिद्धार्थ बसु ने बताया कि अभ्यर्थी किसी भी व्यक्ति के बहकावे में न आएं। सेना में भर्ती सभी मानकों को पूरा करने के बाद ही होती है। भर्ती का कोई शॉर्टकट नहीं है। दलालों पर अंकुश लगाने के लिए भर्ती रैली के दौरान सेना की इंटेलीजेंस यूनिट आनंद इंजीनियरिंग कॉलेज के आसपास घूमती रहेगी और दलालों पर शिकंजा कसेगी। भर्ती रैली पर ड्रोन से भी निगाह रखी जाएगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App