PoK में आतंकियों का कब्जा, गिलगित-बाल्टिस्तान कश्मीर का हिस्सा- रावत

Army Chief

पाकिस्तान की बौखलाहट उसके द्वारा सीमा पार से सीजफायर उल्लंघन कर मासूम लोगों को निशाना बनाए जाने से साफ दिखती है। पाकिस्तान की हरकतों को लेकर आर्मी चीफ (Army Chief) बिपिन रावत ने स्पष्ट लहजे में कहा है कि पीओके (PoK) में आतंकियों का कब्जा है।

Army Chief

आर्मी चीफ (Army Chief) ने यह भी कहा कि हमें इस बात का यकीन है कि हमारे अल्टीमेट मिशन से हमें कोई नहीं रोक सकता है। बिपिन रावत ने कहा कि अल्टीमेट मिशन हासिल करने में हमें समय जरूर लग सकता है लेकिन आखिर में दूध छूटेगी और उजाला होगा। उन्होंने कहा कि जिस क्षेत्र पर पाकिस्तान की ओर से अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया है वह पाकिस्तान द्वारा नियंत्रित नहीं है यहां आतंकियों का नियंत्रण है। पीओके वास्तव में आतंकियों द्वारा नियंत्रित देश या पाकिस्तान का एक आतंकवादी नियंत्रित हिस्सा है।

आर्मी चीफ (Army Chief) ने कहा जब हम जम्मू कश्मीर कहते हैं तो पूर्ण राज्य में पीओके(PoK), गिलगित और बाल्टिस्तान भी  शामिल है। पीओके और गिलगित बाल्टिस्तान इसलिए एक अधिकृत क्षेत्र बन गया है क्योंकि इस पर हमारे पश्चिमी पड़ोसियों ने अवैध रूप से कब्जा कर लिया है।

HC को समर्पण नीति से एतराज, नक्सली को 15 लाख और शहीद परिवारों को धक्के क्यों?

आर्मी चीफ (Army Chief) ने कहा कि जम्मू कश्मीर में आतंकियों द्वारा शांति व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश की गई है। कभी इन आतंकियों ने बाहरी राज्यों से आए सेव कारोबारियों की हत्या कर दी तो कभी दुकानदारों को दुकान नहीं खोलने से मना करते हुए धमकाया। इतना ही नहीं स्कूल खोले जाने के बाद भी आतंकियों ने बच्चों को ख्वाब जगह करते हुए उन्हें रोकने की कोशिश की। दरअसल यह सब पाकिस्तान की ओर से गढ़ा गया है।

आर्मी चीफ (Army Chief)  ने यह भी कहा कि कश्मीर में शांति बनाए रखने के लिए हमारे सैनिक दिन रात काम करते रहते हैं । आर्मी प्रमुख ने कहा कि हमें यकीन है कि आर्टिकल 370 को हटाए जाने के बाद जम्मू कश्मीर को देश के बाकी हिस्सों की तरह सुधार में मदद मिलेगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App