चीन के साथ बढ़ते तनाव के बीच सेना प्रमुख ने दिया ये महत्वपूर्ण बयान

भारत और चीन के बीच जारी गतिरोध के दौरान लद्दाख के दो दिवसीय दौरे पर गए सेना प्रमुख (Army Chief) जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (MM Naravane) ने कहा है कि वास्तविक नियंत्रण रेखा यानी LAC पर स्थिति गंभीर और नाजुक है।

Army Chief

सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे। (फाइल फोटो)

सीमा पर तनाव को देखते हुए भारतीय सेना के प्रमुख (Army Chief) जनरल एमएम नरवणे दो दिवसीय लद्दाख दौरे पर हैं, जहां वह सभी तैयारियों की समीक्षा कर रहे हैं।

भारत और चीन के बीच जारी गतिरोध के दौरान लद्दाख के दो दिवसीय दौरे पर गए सेना प्रमुख (Army Chief) जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (MM Naravane) ने कहा है कि वास्तविक नियंत्रण रेखा यानी LAC पर स्थिति गंभीर और नाजुक है।

LAC पर मौजूदा स्थिति को लेकर सेना प्रमुख ने कहा, “एलएसी पर स्थिति थोड़ी तनावपूर्ण है। स्थिति को ध्यान में रखते हुए हमने अपनी सुरक्षा के लिए एहतियातन तैनाती ले ली है, ताकि हमारी सुरक्षा और अखंडता सुरक्षित रहे। हम किसी भी तरह की चुनौती का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।”

INDIAN ARMY में जाने की राह देख रहे युवाओं के लिए बड़ा मौका, इन शहरों में होगी भर्ती

बता दें कि सीमा पर तनाव को देखते हुए भारतीय सेना के प्रमुख जनरल एमएम नरवणे दो दिवसीय लद्दाख दौरे पर हैं, जहां वह सभी तैयारियों की समीक्षा कर रहे हैं।

सेना प्रमुख (Army Chief) ने कहा, “सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने कहा कि अभी जो LAC पर स्थिति है वो नाजुक और गंभीर है, लेकिन हम लगातार इसके बारे में सोच विचार कर रहे हैं। हमारी सुरक्षा के लिए हमने कुछ एहतियाती कदम उठाए हैं। मुझे उम्मीद है कि हमने जो तैनाती की है उससे हम अपनी सुरक्षा कायम रखेंगे।”

जम्मू-कश्मीर: बारामूला में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, एक अधिकारी घायल

सेना प्रमुख ने कहा, “जवानों का का मनोबल ऊंचा है और वे किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। मैं फिर से दोहराना चाहूंगा कि हमारे अधिकारी और जवान दुनिया में सबसे अच्छे हैं और न केवल सेना बल्कि देश को भी गौरवान्वित करेंगे।”

जनरल नरवणे ने कहा, “मैंने लेह पहुंचने के बाद विभिन्न स्थानों का दौरा किया। मैंने अधिकारियों, जेसीओ से बात की और तैयारियों का जायजा लिया। जवानों का मनोबल ऊंचा है और वे सभी चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार हैं।”

ये भी देखें-

बता दें कि सेना प्रमुख (Army Chief) ने 3 सितंबर को जनरल नरवणे लद्दाख पहुंचे। उन्होंने वहां वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बातचीत की। उन्होंने सेना के आला अफसरों से चीन के प्रयासों को विफल करने के लिए रणनीति पर चर्चा की।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें