Chhattisgarh : 24 घंटे के भीतर राज्य में नक्सलियों का दूसरा हमला, एक जवान शहीद

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित धमतरी जिले में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया, जबकि एक अन्य घायल हुआ है।

Chhattisgarh

सांकेतिक तस्वीर

Chhattisgarh: राज्य के नक्सल प्रभावित धमतरी जिले में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया, जबकि एक अन्य घायल हुआ है। सीनियर पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के चमेदा गांव के जंगल में सुरक्षा बल और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें सीआरपीएफ की 211वीं बटालियन के हवलदार हरीश चंद्र शहीद हो गए हैं जबकि आरक्षक सुधीर कुमार घायल हो गए हैं।

अधिकारियों के मुताबिक खल्लारी थाना क्षेत्र में सीआरपीएफ के दल को तीन अप्रैल को गश्त के लिए रवाना किया गया था। 5 अप्रैल को जब जवान खल्लारी और बोराई थाना क्षेत्र के मध्य चमेदा गांव के जंगल में थे तभी नक्सलियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की जिसके बाद नक्सली वहां से फरार हो गए। घटना की जानकारी मिलने के बाद क्षेत्र के लिए अतिरिक्त पुलिस दल रवाना किया गया है।

यह भी पढ़ेंः Chhattisgarh के कांकेर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में BSF के 4 जवान शहीद, 2 जख्मी

एक दिन पहले यानी 4 अप्रैल को धमतरी जिले से लगे कांकेर जिले में नक्सलियों ने बीएसएफ जवानों पर हमला कर दिया था। इस हमले में चार जवान शहीद हो गए थे जबकि दो अन्य घायल हो गए थे।

दरअसल, चुनावी प्रक्रिया को रोकने की कोशिश करना नक्सलियों की पुरानी परंपरा रही है। चुनाव आते ही नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में इनके बैनर-पोस्टर दिखने लगते हैं। जिसमें लोगों से वोट न डालने की बात लिखी होती है। यही नहीं, ग्रामीणों को वोटिंग से दूर रहने के लिए उन्हें डराते-धमकाते एवं मारते-पीटते भी हैं।

यह भी पढ़ेंः Chhattisgarh: 3 खूंखार नक्सलियों ने डाले हथियार, 6 लाख रुपए का था इनाम

यह भी पढ़ें