भारत आ रही है दुनिया की ये दो सबसे खतरनाक मिसाइल, अमेरिका ने लगाई मुहर

भारत हल्के वजन वाला एमके54 टॉरपीडो (Mark 54 Lightweight Torpedo) अपने पी–84 विमान से इस्तेमाल करना चाहता है। भारत को इसमें कोई कठिनाई नहीं होगी।”

Mark 54 Lightweight Torpedo

अमेरिका (America) के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप (Donald Trump) के प्रशासन ने 15.5 करोड़ ड़ॉलर की हारपून ब्लॉक टू एयर लॉन्चड मिसाइलें और हल्के वजन के टॉरपीडो (Mark 54 Lightweight Torpedo) भारत (India) को बेचने की अपनी प्रतिबद्धता से संसद को अवगत कराया।

‘डिफेंस सिक्योरिटी को–ऑपरेशन एजेंसी’ ने संसद को दो विभिन्न अधिसूचनाओं बताया कि इन 10 एजीएम–84 एल हारपून ब्लॉक टू मिसाइलों की कीमत 9.2 करोड़ डॉलर है जबकि हल्के वजन के 16 ‘एमके 54 ऑल राउंड टॉरपीडो’ और तीन ‘एमके 54 एक्सरसाइज टॉरपीडो’ की कीमत करीब 6.3 करोड़ डॉलर है।

Mark 54 Lightweight Torpedo
Mark 54 Lightweight Torpedo

पेंटागन ने कहा कि भारत (India) सरकार द्वारा इनकी मांग किए जाने के बाद इस संबंध में अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने निर्णय लिया। हारपून ब्लॉक टू के संबंध में पेंटागन के कहा‚ ‘भारत इसका इस्तेमाल क्षेत्रीय खतरों से निपटने और अपनी धरती की सुरक्षा बढ़ाने के लिए करेगा।

कोरोना में कारगर हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की जमाखोरी कर रहे हैं गुजराती

भारत (India) को अपने सशस्त्र बलों में इस उपकरण को शामिल करने में कोई कठिनाई नहीं होगी।’ अन्य एक अधिसूचना में एमके54 टॉरपीडो के बारे में पेंटागन ने कहा‚ ‘भारत इसका इस्तेमाल क्षेत्रीय खतरों से निपटने और अपनी धरती की सुरक्षा बढ़ाने के लिए करेगा।

भारत हल्के वजन वाला एमके54 टॉरपीडो (Mark 54 Lightweight Torpedo) अपने पी–84 विमान से इस्तेमाल करना चाहता है। भारत को इसमें कोई कठिनाई नहीं होगी।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें