नक्सलियों से लोहा लेने वाले जवानों को मिलेगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, गृह मंत्रालय की मंजूरी

नक्सल ऑपरेशन्स में तैनात जवानों को अब पूर्णकालिक एयर एंबुलेंस की सेवा दी जाएगी। यह सुविधा नक्सल इलाकों में ऑपरेशन चला रहे सभी सुरक्षाबलों को दी जाएगी।

एयर एंबुलेंस, जवानों के लिए एयर एंबुलेंस, एयर एंबुलेंस जवान, सुरक्षाबल एयर एंबुलेंस, छत्तीसगढ़, झारखंड, रांची, गृह मंत्रालय, सुरक्षाबलों की सुरक्षा

नक्सल ऑपरेशन्स में तैनात जवानों के लिए एयर एंबुलेंस की सुविधा।

नक्सली देश की आतंरिक सुरक्षा के लिए बड़ी चुनौती हैं। इस चुनौती से जूझते हैं हमारे बहादुर जवान। इसके लिए उन्हें घने जंगलों और ऊंचे पहाड़ी इलाके में रहकर सीमा चौकियों की निगरानी करनी पड़ती है। उनकी इन कठिनाइयों को ध्यान में रखते हुए नक्सल ऑपरेशन्स में तैनात जवानों को अब पूर्णकालिक एयर एंबुलेंस की सेवा दी जाएगी। यह सुविधा नक्सल इलाकों में ऑपरेशन चला रहे सभी सुरक्षाबलों को दी जाएगी। गृह मंत्रालय ने MI-17 हेलिकॉप्टर की एयर एंबुलेंस को मंजूरी देते हुए कहा कि सीमा सुरक्षा बल के जवानों के लिए MI-17 पर एयर एंबुलेंस की सेवा शुरू की गई है।

इस एयर एंबुलेंस का केंद्र झारखंड की राजधानी रांची होगा। यह एयर एंबुलेंस 24 घंटे और हफ्ते के सातों दिन तैयार और जरूरत पड़ने पर जवानों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए अस्पताल तक पहुंचाएगी। नक्सल इलाकों में तैनात जवानों के लिए शुरू की गई एयर एंबुलेंस की सेवा में एक डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ और मेडिकल कर्मचारी भी तैनात रहेंगे। ये लोग घायल जवानों को प्राथमिक उपचार देंगे। साथ ही इस एयर एंबुलेंस में जरूरी स्वास्थ्य सेवाएं भी उपलब्ध कराई जाएंगी।

झारखंड के नक्सल प्रभावित इलाकों में खुलेंगे 220 नए डाकघर

इस एयर एंबुलेंस की सेवा झारखंड के नक्सल प्रभावित इलाकों के अलावा छत्तीसगढ़ के बस्तर, बलरामपुर, सरगुजा, तेलंगाना और ओडिशा के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में ली जाएगी सुविधा। नक्सल विरोधी ऑपरेशन के अलावा यह एंबुलेंस प्राकृतिक आपदा के दौरान भी उपलब्ध रहेगी। एयर एंबुलेंस एयर फोर्स का होगा और इसमें स्टेबलाइजर, ऑक्सीजन सिलेंडर और वेंटीलेटर जैसे चिकित्सा के आधुनिक उपकरण होंगे। इमरजेंसी के दौरान जीवन रक्षक दवाइयां और इंजेक्शन भी एंबुलेंस में उपलब्ध रहेंगी। सीआरपीएफ, सीआईएसफ बीएसएफ आईटीबीपी, एसएसबी और एनडीआरएफ की टीम को यह एंबुलेंस सूचना पर तत्काल प्रभाव से उपलब्ध मिलेगी। यानी, नक्सलवाद के खिलाफ जंग में तैनात जवानों के लिए ये केंद्र सरकार की बड़ी सौगात है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App