आतंकियों की शामत, पिछले 21 दिनों में 18 आतंकी ढेर

11 मार्च को सेना की 15वीं कोर के जीओसी केजेएस ढिल्लन में राज्य पुलिस और सीआरपीएफ के अधिकारियों के साथ श्रीनगर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया कि मारे गए इन 21 आतंकियों में से 8 आतंकी पाकिस्तानी हैं।

21 terrorists killed in last 18 days,pulwama, tral encunter, kashmir, jammu,pakistan,army, crpf

सेना इस बार चुन-चुन कर आतंकियों का सफ़ाया कर रही है। पिछले 21 दिन में सेना ने 18 आतंकियों को मौत के घाट उतारा है जिसमें से 8 आतंकी पाकिस्तान के थे।

पुलवामा आतंकी हमले के बाद आतंकियों की शामत आ गई है। सेना इस बार चुन-चुन कर आतंकियों का सफ़ाया कर रही है। पिछले 21 दिन में सेना ने 18 आतंकियों को मौत के घाट उतारा है जिसमें से 8 आतंकी पाकिस्तान के रहने वाले थे। 11 मार्च को सेना की 15वीं कोर के जीओसी केजेएस ढिल्लन में राज्य पुलिस और सीआरपीएफ (CRPF) के अधिकारियों के साथ श्रीनगर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया कि मारे गए इन 21 आतंकियों में से 8 आतंकी पाकिस्तानी हैं।

ये आतंकी भारत में घुसपैठ कर आतंकी वारदातों को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे। जीओसी ने बीते कुछ दिनों में आतंक के खिलाफ बड़े ऑपरेशन के बारे में बताया। साथ ही साथ ये भी कहा कि आतंकियों के खिलाफ सेना का यह अभियान लगातार जारी रहेगा। प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी देते हुए कश्मीर रेंज के आईजी स्वयं प्रकाश पाणी ने कहा कि 10 मार्च को पुलवामा के पिंगलिश में हुई मुठभेड़ में सेना ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी मुदस्सिर अहमद को मार गिराया है।

मुदस्सिर कश्मीर घाटी में जैश के लिए काम करता था। इसने ही पुलवामा में सीआरपीएफ (CRPF) काफिले पर आतंकी हमले की योजना बनाई थी। मुदस्सिर पिछले साल घर से फरार हो गया था और पुलवामा के आत्मघाती आतंकी आदिल डार के सम्पर्क में था। वह जैश के लिए काम करता था। वहीं सेना पुलवामा आतंकी हमले को लेकर जांच कर रही है। मुदस्सिर के एनकाउंटर के बाद सेना ने इलाके में सर्च ऑपरेशन तेज़ कर दिया है। आतंकियों की तलाश जारी है। सेना को इस बार पूरी छूट भी है कि घाटी से आतंकवाद का जड़ से सफ़ाया कर दे।

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर के त्राल में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 3 आतंकी ढेर

यह भी पढ़ें