World View with Shivkant

भारत सरकार और भारत के उद्योगपति अगर इस मौके का लाभ उठाएं और वही सामान अपने यहां बनाने पर ज़ोर दें तो आगे चल कर यही संकट फ़ायदे का सौदा भी साबित हो सकता है।

ट्रंप साहब चाहे जितने जीत के दावे और आइसिस ख़त्म करने के दावे करते फिरें। असलियत में यह समझौता अगर किसी की जीत के रूप में देखा जा सकता है तो वह तालिबान की जीत है।

अमेरिका के राष्ट्रपति Donald Trump भारत दौरे पर हैं। पर सवाल उठता है कि इस यात्रा और मेहमान नवाज़ी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत को क्या हासिल होगा।

FATF ने पाकिस्तान को 33 शर्तों की एक सूची थमा रखी है जिन्हें पूरा करने पर ही उसे ग्रे-लिस्ट से हटाया जाएगा और यदि वह नियत समय-सीमा के भीतर सारी शर्तें पूरी नहीं कर पाता है तो उसे ब्लैकलिस्ट कर दिया जाएगा।

क्या डोनाल्ड ट्रंप इंपीचमेंट से बिल क्लिंटन की तरह कोई सीख लेंगे और अपने तौर-तरीक़े बदलेंगे? ब्रिटन को यूरोपीय संघ से बाहर लाने के बाद क्या प्रधानमंत्री बोरिस जॉन्सन अब पहले से बेहतर व्यापार संधियां कर पाएंगे?

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की इजराइली-फिलिस्तीनी शांति योजना Deal of the Century है या Slap of the Century? अमेरिकी सेनेट में दो हफ़्ते से चल रही इम्पीचमेंट की सुनवाई के बावजूद डोनाल्ड ट्रंप की लोकप्रियता गिर क्यों नहीं रही है और एक छोटे देश के लिए दुनिया की मंडी में अकेले व्यापार करना आसान नहीं होगा यह जानते हुए भी ब्रिटेन के लोग यूरोपीय संघ से बाहर निकलने को आमादा क्यों हुए?

ये प्रस्ताव CAA, असम की NRC, CAA और NRC का विरोध करने वालों के ख़िलाफ़ उठाए गए दमनकारी कदमों और जम्मू-कश्मीर के नेताओं और लोगों पर लगाई गई पाबंदियों की निंदा करते हैं।

कोरोनावायरस (Corona Virus) भी SARS की तरह ही निमोनिया का वायरस है जो हवा और छूने से फैलता है। इसके रोगी को खांसी और बुख़ार होता है और सांस लेने में दिक़्क़त होती है।

अमेरिकी संसद (American Senate) ने अपने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) पर चल रहे महाभियोग (Donald Trump Impeachment) की सुनवाई शुरू कर दी। यदि ट्रंप को महाभियोग (Donald Trump Impeachment) में लगे आरोपों का दोषी पाया जाता है तो उन्हें गद्दी छोड़नी होगी।