नक्सलवाद का सच

प्रकाश राणा के पास से एक मेड इन अमेरिका लिखा हुआ ऑटोमेटिक पिस्टल, 6 जिंदा कारतूस, एक वॉकी-टॉकी, दो पाइप बम समेत काफी सामान बरामद हुआ है।

प्रशासन के लिए सबसे बड़ी चुनौती वैक्सीन को जिलों के अंदर केंद्रों में ले जाने की है, क्योंकि कई इलाके ऐसे हैं जो नक्सल (Naxalites) प्रभावित हैं।

घटना बीती रात की बताई जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक आठ से दस नक्सली गांव पहुंचे और सरपंच के पति को घर से उठा लिया, फिर जंगल जाकर उनकी हत्या कर दी।

एसपी ने बताया कि पंचायत के डबरी निर्माण कार्य में कमीशन लेने वाले नक्सली (Naxalites) कमांडर बुधरा के पखनाचुआं पहुंचने की जानकारी मिली थी।

नक्सली मुकेश गंझू नक्सली संगठन तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमेटी ( TSPC) का दूसरा सुप्रीमो है। यानी वह संगठन में नंबर 2 की हैसियत रखता है।

भंडरिया थाना क्षेत्र के बिजका के सरकारी स्कूल के मैदान में भाकपा माओवादी के नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ रणनीति बनाई जा रही है।

कोबरा बटालियन 205 के जवानों ने बांकेबाजार लुटुआ थाना क्षेत्र में आइईडी सीरीज बरामद की है। इसे नक्सलियों ने किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए लगाया था।

पुष्टि दंतेवाड़ा के एसपी अभिषेक पल्लव ने की है। उन्होंने बताया कि पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें 5 लाख रुपए का एक इनामी नक्सली मारा गया है।

मीटिंग में ये निर्देश दिए गए हैं कि नक्सल (Naxalites) इलाकों में घूम रहे संदिग्ध लोगों को भी गिरफ्तार किया जाए। इसके अलावा मुखबिरों को भी सतर्क करने की बात इस मीटिंग में कही गई है।

झारखंड (Jharkhand) के गुमला जिला पुलिस को नक्सलवाद (Naxalism) के खिलाफ एक बड़ी सफलता मिली है। पुलिस के प्रयास से पीएलएफआई (PLFI) के नक्सली (Naxali) संजय टाइगर उर्फ संजय गोप ने पुलिस के सामने सरेंडर (Surrender) कर दिया।

ताजा मामला ये है कि 16 सालों तक नक्सली क्षेत्रों में ड्यूटी करने वाले छत्तीसगढ़ पुलिस विभाग में पदस्थ एसएस ध्रुवे नक्सलियों के निशाने पर हैं।

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के खिलाफ लगातार अभियान जारी है। ताजा मामला दंतेवाड़ा का है।यहां जवानों ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया है।

बिहार में नक्सलियों के खिलाफ अभियान जारी है, फिर भी नक्सली अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। नक्सलियों ने सीओ विनोद कुमार गुप्ता और एक स्कूल के प्रिंसिपल को धमकी दी है।

कोल्‍हान के चक्रधरपुर अनुमंडल के टैबो थाना क्षेत्र में लोवाहातु जंगल के आसपास चाईबासा पुलिस ने 2 नक्सलियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने भाकपा माओवादी के पूर्व सदस्य और महुआ टीकर गांव निवासी टुनटुन खरवार को गिरफ्तार किया है। पूर्व नक्सली को शनिवार को जेल भेजा गया।

चतरा के एसपी ऋषव कुमार झा ने कहा है कि इन नक्सलियों के पोस्टर सार्वजनिक जगहों पर लगाए जाएंगे और इनकी जानकारी देने वालों के नाम गुप्त रखे जाएंगे।

इंदू हेम्ब्रम को उस वक्त गिरफ्तार किया गया, जब वह पोसैता बाजार में राशन का सामान खरीदने आया था। वह मोछू उर्फ मेहनत दस्ते का सक्रिय सदस्य है।

यह भी पढ़ें