सच के सिपाही

लैंगिक समानता की दिशा में सराहनीय पहल करते हुए सीआरपीएफ (CRPF) ने इस साल से एक विशेष वार्षिक पुरस्कार देने का फैसला लिया है।

Delhi voilence Ankit Sharma Murder News: घर पर मां चाय के लिए अंकित का इंतजार करती रही, लेकिन शायद उनके नसीब में मां के हाथ की चाय नहीं लिखी थी।

केन्द्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) देश की सेवा में हर पल तत्पर रहती है। देश की रक्षा करने के साथ-साथ लोगों की हर संभव मदद के लिए बल के जवान हमेशा तैयार रहते हैं।

भारतीय वायुसेना के जांबाज विंग कमांडर अभिनंदन (Wing Commander Abhinandan Varthman) ने पाकिस्तान के एक एफ-16 लड़ाकू विमान को भी मार गिराया था।

भारतीय सेना, सुरक्षाबल और पुलिस देश की सेवा में हर पल तत्पर रहते हैं। देश के साथ-साथ लोगों की हर संभव मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।

चंद्रशेखर आजाद भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के सबसे मतवाले और यशस्वी क्रांतिकारी थे। 17 साल के चंद्रशेखर क्रांतिकारी दल हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोशिएशन में शामिल हो गए थे।

दिल्ली में सीएए के खिलाफ तीन दिनों तक जबरदस्त हिंसा होती रही और कई जानें इस हिंसा की बलि चढ़ गईं। इस हिंसा को शांत करने की ड्यूटी पूरी शिद्दत से निभा रहे दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल की मौत ने सबको झकझोर दिया है।

भारतीय सेना की 'कोणार्क कोर' (Konark Corps) ने आज 33वां स्थापना दिवस मनाया। 'डेजर्ट कोर' के नाम से आज ही के स्थापित की गई थी। इस अवसर पर देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धासुमन अर्पित किए गए।

भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) ने पिछले साल आज ही के दिन पाकिस्तान (Pakistan) के बालाकोट (Balakot) में घुस एयर स्ट्राइक कर आतंकी कैंपों को ध्वस्त किया था।

मैच के दौरान कही भी ऐसा नहीं लग रहा था कि कोई भी टीम कमजोर पड़ रही हो।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली हमले में घायल हुए राजस्थान के अलवर के जवान अजीत सिंह 18 फरवरी को शहीद हो गए। 19 फरवरी को पैतृक गांव गंडाला में शहीद अजीत सिंह (Martyr Ajit Singh) का अंतिम संस्कार किया गया।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली मुठभेड़ में घायल एक और जवान शहीद हो गया। शहीद जवान का नाम अजीत सिंह है। वे राजस्थान के अलवर के रहने वाले थे। शहीद अजीत सिंह सीआरपीएफ (CRPF) की 204 कोबरा बटालियन में तैनात थे।

जम्मू-कश्मीर राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित पुलवामा में CRPF जवानों को लेकर जा रही बस पर 14 फरवरी, 2019 को फिदायीन हमला हुआ था। उस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी, 2019 को सीआरपीएफ (CRPF) के काफिले पर हुए आतंकी हमले (Pulwama Attack) में यूपी के उन्नाव जिले के रहने वाले अजीत कुमार आजाद भी शहीद हुए थे।

पुलवामा हमले (Pulwama Attack) में शहीद हुए 40 सीआरपीएफ जवानों में यूपी के कन्नौज जिले के प्रदीप सिंह भी शामिल थे। जिले के तिर्वा तहसील क्षेत्र के ग्राम सुखसेनपुर अजान के रहने वाले प्रदीप सिंह पुलवामा हमले में शहीद हो गए थे।

पुलवामा में पिछले साल हुए आतंकी हमले (Pulwama Attack) में शहीद हुए जवानों को लेकर उस वक्त बड़ी-बड़ी घोषणाएं की गई थीं। सरकार और प्रशासन ने तमाम वादे किए थे, लेकिन कुछ वक्त बाद इन वादों को भूला दिया गया।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर (Bijapur) जिले में 10 फरवरी को हुए पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ (Naxal Encounter) में सीआरपीएफ (CRPF) के 6 जवान घायल हो गए थे।

यह भी पढ़ें