Kargil War 1999: जब पिता दुश्मनों से ले रहे थे लोहा, गर्भ में थी ये बच्ची; अब पापा को मानती है भगवान

भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 में लड़े गए युद्ध (Kargil War) में भारतीय सेना (Indian Army) के वीर सपूतों ने दुश्मनों को बुरी तरह से परास्त किया था। पाकिस्तानी सैनिकों पर हमारा एक-एक जवान कहर बनकर टूटा था।

Kargil war

फाइल फोटो।

Kargil War 1999: एक शहीद की बेटी ऐसी है, जब युद्ध चल रहा था तो वह गर्भ में थी और आज वह 21 साल की हो चुकी है। इस लड़की के लिए उनके पिता भगवान है क्योंकि वह मानती है कि न तो उसने भगवान को देखा है और न ही पिता को।

भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 में लड़े गए युद्ध (Kargil War) में भारतीय सेना (Indian Army) के वीर सपूतों ने दुश्मनों को बुरी तरह से परास्त किया था। पाकिस्तानी सैनिकों पर हमारा एक-एक जवान कहर बनकर टूटा था। इस युद्ध में जीत हमारी हुई थी और इसके पीछे 527 जवानों की शहादत थी।

युद्ध में हमारे वीर सपूतों ने भारत मां की रक्षा के लिए अपनी जान न्योछावर कर दुश्मनों को परास्त किया था। युद्ध में इन जवानों ने अपने परिवार को पीछे छोड़ देश के लिए कुर्बानी दी। इनमें से एक शहीद ऐसे हैं, जिनकी बेटी युद्ध के दौरान गर्भ में थी और आज वह 21 साल की हो चुकी है। इस लड़की के लिए उनके पिता भगवान है क्योंकि वह मानती है कि न तो उसने भगवान को देखा है और न ही पिता को।

Indian Army ने नेपाल की सेना को गिफ्ट की भारत में बनी कोरोना वैक्सीन की एक लाख डोज, देखें PHOTOS

इस लड़की का नाम स्मृति है और वह हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर की रहने वाली है। जब पिता शहीद हुए उस समय स्मृति की मम्मी कांता 4 माह की गर्भवती थीं। स्मृति कहतीहै, “मैंने भगवान को भी नहीं देखा और पापा को भी नहीं। तो पापा भी भगवान हुए ना?”

ये भी देखें-

वह कहती है, “जैसे-जैसे मैं बड़ी होती गई तो पिता के बारे में पूछने लगी थी। मेरी दादी मुझे बताती थीं कि उन्हें युद्ध में सिर पर गोली लगी थी। वे इस दुनिया में नहीं रहे। मैं डायरी लिखना पसंद करती हूं और जब भी मुझे पिता की याद आती है, उस डायरी से बातें भी करती हूं।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें