पिता से प्रेरणा लेकर फौज में गया इकलौता बेटा, मातृभूमि के लिए हो गया कुर्बान

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के हंदवाड़ा में 3 मई को हुई मुठभेड़ में सेना के 2 अधिकारी सहित 5 जवान शहीद हो गए। इन 5 सैनिकों में लांस नायक दिनेश सिंह (Lance Naik Dinesh Singh) भी शामिल हैं।

Lance Naik Dinesh Singh 1

हंदवाड़ा में हुई आतंकी मुठभेड़ में लांस नायक दिनेश सिंह शहीद हो गए।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के हंदवाड़ा में 3 मई को हुई मुठभेड़ (Handwara Encounter) में सेना के 2 अधिकारी सहित 5 जवान शहीद हो गए। इन 5 सैनिकों में लांस नायक दिनेश सिंह (Lance Naik Dinesh Singh) भी शामिल हैं। लांस नायक दिनेश सिंह उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के धौलादेवी ब्लॉक मिरगांव (ध्याड़ी) के रहने वाले थे। वो अपने परिवार के इकलौते बेटे थे। शहादत की खबर से उसके परिवार में कोहराम मच गया।

पिता भी रिटायर्ड सूबेदार: लांस नायक दिनेश सिंह रिटायर्ड सूबेदार के बेटे हैं। शहीद लांस नायक दिनेश सिंह (Lance Naik Dinesh Singh) के पिता गोधन सिंह गैड़ा भी भारतीय सेना (Indian Army) में रहकर देशसेवा कर चुके हैं। उन्हीं से प्रेरणा लेकर इकलौता बेटा दिनेश सिंह भी करीब पांच साल पहले भारतीय फौज में भर्ती हुआ था। दिनेश की उम्र महज 25 साल थी।

कपड़ों में ग्रेनेड छिपाए आतंकी को पास से मारी थी गोली, शहीद कर्नल आशुतोष शर्मा को मिल चुके हैं कई वीरता पुरस्कार

परिवार कर रहा था शादी की तैयारी: शहीद के परिवार वालों ने बताया कि शहीद लांस नायक दिनेश सिंह (Lance Naik Dinesh Singh) को 2 महीने पहले घर आना था लेकिन लॉकडाउन के कारण वह घर नहीं आ सके थे। 2 दिन पहले ही शहीद की अपने पिता से बात हुई थी। उन्होंने अपने पिता को बताया था कि लॉकडाउन खत्म होते ही वह छुट्टी पर घर आएंगे। नायक दिनेश के परिवार में सूबेदार पिता के अलावा मां और दो बड़ी बहनें हैं। परिवार इस साल लांस नायक दिनेश सिंह की शादी की तैयारी कर रहा था।

जल्द ही घर लौटने का किया था वादा: लांस नायक दिनेश सिंह 2015 में सेना में भर्ती हुए थे। दिनेश आखिरी बार दिसंबर में घर आए थे। इस मई-जून के महीने में वे अपने परिवार से मिलने घर आने वाले थे। दो दिन पहले ही दिनेश ने अपने पिता से फोन पर बातचीत के दौरान जल्द ही घर लौटने का वादा किया था। लेकिन लांस नायक दिनेश सिंह का ये वादा अधूरा रह गया। आतंकियों के साथ मुठभेड़ में जांबाज लांस नायक दिनेश सिंह (Lance Naik Dinesh Singh) ने अपना सर्वोच्च बलिदान दे दिया।

मुख्यमंत्री ने व्यक्त की संवेदना: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अल्मोड़ा निवासी लांस नायक दिनेश सिंह (Lance Naik Dinesh Singh) सहित सहित अन्य सैन्य अधिकारियों व जवानों की शहादत को नमन किया है। उन्होंने कहा कि देश रक्षा के लिए हमारे जवानों ने सर्वोच्च बलिदान किया है। हमें इनकी शहादत पर गर्व है। ईश्वर उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार हमेशा शहीद के परिजनों के साथ है।

यह भी पढ़ें