बुरहान वानी को मार गिराने वाले दिलेर IPS अफसर को मिला राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार

हिजबुल मुजाहिद्दीन के पोस्टर ब्वॉय बुरहान वानी (Burhan Wani) को मार गिराने वाली टीम को लीड करने वाले आईपीएस अफसर को राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार से नवाजा जाएगा। भारतीय पुलिस सेवा (IPS) 2008 बैच के अधिकारी अब्दुल जब्बार को हिजबुल कमांडर बुरहान वानी को खत्म करने वाले ऑपरेशन का नेतृत्व करने के लिए राष्ट्रपति द्वारा वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

Burhan Wani
बुरहान वानी को ढेर करने वाले भारतीय पुलिस सर्विस के जांबाज आधिकारी को राष्ट्रपति वीरता पदक मिला है।

हिजबुल मुजाहिद्दीन के खूंखार आतंकी बुरहान वानी (Burhan Wani) को ढेर करने वाले भारतीय पुलिस सर्विस (IPS) के जांबाज आधिकारी अब्दुल जब्बार को राष्ट्रपति वीरता पदक मिला है। जिस एनकाउंटर में बुरहान वानी ढेर हुआ, उस टीम को अब्दुल जब्बार लीड कर रहे थे। जब्बार 2008 बैच के भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी हैं। बता दें कि एक खुफिया इनपुट पर तत्कालीन एसएसपी अनंतनाग अब्दुल जब्बार ने पुलिसकर्मियों की उस टीम का नेतृत्व किया था, जिसने 8 जुलाई, 2016 को कश्मीर में हिजबुल मुजाहिद्दीन के पोस्टर बॉय बुरहान बानी (Burhan Wani) का एनकाउंटर किया था। उस वक्त अब्दुल जब्बार अनंतनाग के एसएसपी के पद पर तैनात थे।

गौरतलब है कि इस एनकाउंटर के बाद कश्मीर घाटी में 6 महीने से अधिक समय तक राज्य में हालात बेहद गंभीर थे। राज्य के हालात देखते हुए उस समय के पुलिस उप महानिरीक्षक (DIG) नीतीश कुमार के साथ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) अब्दुल जब्बार को जम्मू-कश्मीर से बाहर भेज दिया गया था। इस दौरान अब्दुल जब्बार बिहार के औरंगाबाद के हाजीपुर भेजा गया था। बता दें कि यह एनकाउंटर 2016 में किया गया था। लेकिन इंटेलिजेंस ब्यूरो में तैनात अधिकारी को कुछ साल बाद सम्मानित किया गया।

जब्बार को यह पुरस्कार पिछले साल ही मिलने वाला था, लेकिन बाद में इसे टाल दिया गया था। राष्ट्रपति द्वारा दिए जाने वाला यह मेडल पुलिस के लिए सर्वोच्च मेडल माना जाता है। उल्लेखनीय है कि भारत सरकार ने 71वें गणतंत्र दिवस (Republic Day 2020) मौके पर 25 जनवरी को वीरता पुरस्कारों का ऐलान किया। मिली जानकारी के मुताबिक, कुल 4 राष्ट्रपति पुलिस पदक (पीपीएमजी), 286 वीरता पुरस्कार दिए गए। इसके अलावा 93 को विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति का पुलिस पदक और 657 को मेधावी सेवा के लिए पुलिस पदक दिया गया है।

पढ़ें: -15°C में जवानों का जोश हाई, तिरंगा फहराकर मनाया गणतंत्र दिवस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here