सालों से आतंक मचाती रही, ऐसे पुलिस के हत्थे चढ़ी ये 8 लाख की इनामी नक्सली

naxal, woman naxal, naxal arrested, kanker, chhattisgarh naxals, Chhattisgarh, sirf sach, sirfsach.in

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षाबल लगातार सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं। नक्सलियों के खिलाफ अभियान जोरों पर है। इसी क्रम में छत्तीसगढ़ के कांकेर में एंटी नक्सल ऑपरेशन में जुटे सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। सुरक्षा बलों ने कोयलीबेड़ा के आलपरस के जंगल में हुए मुठभेड़ के बाद आठ लाख रूपए की इनामी महिला नक्सली को गिरफ्तार किया है। इस महिला नक्सली का नाम फूलो बाई उर्फ महरी नेताम है। वह नक्सल संगठन की डिप्टी कमांडर है। दरअसल, पुलिस को सूचना मिली थी कि कोयलीबेड़ा में कुछ नक्सली मौजूद हैं। नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना पर पुलिस ने सर्च ऑपरेशन शुरू किया। तभी अचानक नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने भी फायरिंग की।

जवानों को भारी पड़ता देख नक्सली मौके से भाग निकलने में कामयाब रहे। इस दौरान एक महिला नक्सली कमांडर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। कोयलीबेड़ा थाना इलाके के आलपरस गांव के जंगलों में यह घटना हुई और महिला नक्सली को पकड़ने में कामयाबी मिली। कांकेर पुलिस ने मौके से नक्सली साहित्य, बंदूक की गोलियों के खोखे, टार्च और वायर भी बरामद भी किया है। डीआरजी और एसटीएफ टीम की संयुक्त कार्रवाई में यह ऑपरेशन हुआ। कांकेर एसपी कन्हैयालाल ध्रुव के अनुसार, साल 2009 से  माओवादी संगठन के लिए काम कर रही यह महिला माओवादी मिलिट्री कंपनी नंबर 5 की प्लाटून 2 की सेक्शन बी की उप कमांडर है। इसने परतापुर थाना क्षेत्र के महला गांव में बीएसएफ जवानों को निशाना बनाया था जिसमें दो जवान मारे गए थे। इसके अलावा काकनार गांव में झारखंड के एक व्यक्ति की गला घोंटकर हत्या कर दी थी और उसकी लाश को आग लगा कर जला दिया था। नारायणपुर के इरपनार गांव में पुलिस के चार जवानों की हत्या करने में भी यह महिला माओवादी शामिल थी।

इससे पहले, 8 मई, 2019 की अहले सुबह दंतेवाडा-सुकमा बॉर्डर के पास स्थित बीहड़ों में नक्सली 25 से 30 टेंट लगाकर किसी खौफनाक योजना के लिए रणनीति बना रहे थे। लेकिन सुरक्षाबलों को उनकी इस गुप्त योजना मीटिंग के बारे में पता चल गया। जिसके बाद पुलिस बल ने इसपर कार्रवाई की। गोन्देरास गांव के जगलों में डिस्ट्रिक रिजर्व गार्ड और स्पेशल टास्क फोर्स के जवानों ने पूरी तैयारी के साथ नक्सलियों पर हमला बोला। बहादुर जवानों के हमले से नक्सलियों को संभलने तक का मौका नहीं मिला। दोनों तरफ से काफी देर तक गोलीबारी हुई। इस मुठभेड़ में एक महिला समेत दो नक्सली ढेर हो गए। पुलिस ने माओवादियों के पास से एक इंसास राइफल और 12 बोर बंदूक के साथ काफी सामान बरामद किया था।

यह भी पढ़ें: 9 साल के इस मासूम की देशभक्ति को सलाम, शहीदों के सम्मान के लिए कर रहा ऐसा काम…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here